जम्मू कश्मीर दौरे के बीच शाह ने की शहीद अरशद के परिवार से मुलाकात

श्रीनगर : केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह जम्मू-कश्मीर के दौरे पर हैं। बतौर गृह मंत्री अपने पहले दौरे पर उन्होंने अधिकारियों को कड़ा निर्देश दिया कि 1 जुलाई से आरंभ होने वाली अमरनाथ यात्रा की सुरक्षा का इंतजाम एकदम सही ढंग से होना चाहिए। शाह गुरुवार को बाबा बर्फानी के दर्शन के लिए जायेंगे। इसके अलावा राज्य के कई बीजेपी नेता भी शाह से मुलाकात करेंगे और परिसीमन समेत कई मुद्दे उठाएंगे।
शहीद के परिजनों से की मुलाकात
शाह ने अपने दौरे के बीच 12 जून को अनंतनाग में हुए आतंकी हमले में शहीद हुए जवान अरशद खान के घर पहुंचकर उनके परिवार से मुलाकात की। मालूम हो कि खान अनंतनाग सदर के एसएचओ थे और 12 जून की शाम केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) की पेट्रोलिंग के वक्त आतंकियों द्वारा किए गए हमले में शहीद हो गए थे। अनंतनाग बस स्टैंड के समीप केपी रोड पर हुए हमले में सीआरपीएफ के 5 जवान भी शहीद हुए थे और कई अन्य जवान घायल हो गए थे।
आतंकी संगठन ने ली थी हमले की जिम्मेदारी
अनंतनाग में सीआरपीएफ के जवानों पर हुए हमले की जिम्मेदारी अल उमर मुजाहिद्दीन नाम के आतंकी संगठन ने ली थी। इस हमले का मास्टरमाइंड कश्मीर का रहने वाला पाकिस्तानी आतंकवादी मुश्ताक अहमद जरगर है। इंडियन एयरलाइंस की फ्लाइट आईसी-814 के हाइजैक होने के बाद अटल बिहारी वाजपेयी सरकार ने जिन तीन आतंकवादियों को रिहा किया था, उनमें मसूद अजहर और शेख अहमद उमर सईद के साथ जरगर भी शामिल था।
परिसीमन की बात से गृह मंत्रालय ने किया इंकार
अमित शाह के केंद्रीय गृह मंत्री बनने के बाद राज्य में परिसीमन की चर्चा हो रही थी। हालांकि गृह मंत्रालय ने इस विषय पर किसी तरह की चर्चा से इनकार कर दिया है। मालूम हो कि घाटी में अभी कुल 87 विधानसभा सीटें हैं, जिनमें कश्मीर का हिस्सा ज्यादा है। परिसीमन होता तो जम्मू में विधानसभा की सीटें भी बढ़ सकती हैं।

गौरतलब है कि कश्मीर घाटी में आतंकवाद के तीन दशकों के बीच ऐसा पहली बार हुआ है कि अलगाववादी संगठनों ने किसी गृह मंत्री के दौरे के वक्त बंद की अपील नहीं की है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

टाला ब्रिज पर डायवर्सन के कारण 100 मिनी बसें चलाएगा परिवहन विभाग

वाहनों के डायवर्सन से यात्रियों को नहीं होगी समस्याः शुभेन्दु अधिकारी कोलकाताः टाला ब्रिज पर बस व भारी वाहनों की पाबंदी के बाद बड़े पैमाने पर आगे पढ़ें »

बीजीबी की कार्रवाई बेवजह, हमने नहीं चलाई एक भी गोलीः बीएसएफ

मुर्शिदाबादः बॉर्डर गार्ड बांग्लादेश (बीजीबी) के जवानों ने बीएसएफ के जवान को लक्ष्य कर जानबूझकर चलायी थी गोली। यह मानना है सीमा पर तैनात बीएसएफ आगे पढ़ें »

ऊपर