भीख मांग रही बच्ची की खबर है झूठी, वायरल हो रही फोटो की यह है सच्‍चाई

सोशल मीडिया पर इन दिनों एक भीख मांगती हुई बच्ची का फोटो खूब वायरल हो रहा है। लोग दावा कर रहे हैं कि यह बच्ची अपने घरवालों से बिछड़ गई है और अब भीख मांग रही है। लोगों के इस दावे पर जब मामले की जांच की गई तो पाया गया कि बच्ची के भारत में भीख मांगने की खबर गलत है।

क्या है पूरा मामला

दरअसल, ट्विटर, व्हाट्सएप सहित अन्य सोशल साइट्स पर इस बच्ची की फोटो शेयर की गई। हालांकि, लड़की का नाम और जगह हर पोस्ट में अलग-अलग बताई जा रही हैं। किसी पोस्ट में बच्ची का नाम सोनल त्रिपाठी था तो किसी में सोनल बिपिन बताया गया है। वहीं जगहों में मुंबई, जौनपुर जैसे कई शहरों का उल्लेख है। ट्विटर पर शेयर एक पोस्ट के मुताबिक, ‘इस छोटी सी खूबसूरत बच्ची को जौनपुर में भिखारियों के साथ देखा गया। वह अपना नाम सोनल त्रिपाठी बताती है। भिखारियों का कहना है कि वह मुंबई से आने वाली ट्रेन में मिली थी। वहीं, साल 2019 के एक अन्य पोस्ट में दावा किया गया है कि इस बच्ची को मंगलोर के भिखारियों के साथ देखा गया है। और बच्‍ची ने अपना नाम सोनल बिपिन पटेल बताया है।

यह है सच्चाई

सोशल साइट्स पर हो रहे अलग-अलग दावों के देखते हुए जब इस मामले की पड़ताल की गई तो पाया गया कि यह खबर पूरी तरह गलत है। दरअसल, यह तस्वीर भारत की है ही नहीं। भीख मांग रही बच्ची के कटोरे में रखे नोटों को जब ध्यान से देखा गया तो सच्‍चाई बाहर आ गई। उसमें रखें नोट बांग्लादेश के हैं, जिसकी पु‌ष्टि नोट पर छपे शेख मुजीबुर रहमान के फोटो से हुई।

शेयर करें

मुख्य समाचार

ऊपर