पीएम मोदी की पत्नी के शाहीन बाग प्रदर्शन में शामिल होने का दावा झूठा, यह है सच्‍चाई

दिल्ली के शाहीन बाग में (सीएए) नागरिकता संशोधन कानून को लेकर कई दिनों से विरोध प्रदर्शन जारी है। ऐसे में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की पत्नी जशोदाबेन के नाम पर सोशल मीडिया में एक फोटो वायरल हो रहा है। इसमें ये दावा ‌किया जा रहा कि जशोदाबेन भी नागरिकता कानून के विरोध में शाहीन बाग में धरना दे रही हैं।

क्या है सच्चाई

सोशल मीडिया पर एक फोटो वायरल कर यह दावा किया जा रहा कि पीएम मोदी की पत्नी जशोदाबेन भी सीएए के विरोध में है। वह अपना विरोध जताने दिल्ली के शाहीन बाग पहुंची है जहां पहले से अन्य प्रदर्शनकारी मौजूद हैं। वायरल हो रहे इस फोटो की पड़ताल की गई तो यह फर्जी निकली। दरअसल, चार साल पहले 12 फरवरी 2016 को मुंबई के झुग्गी वासियों द्वारा आजाद मैदान में एक प्रदर्शन आयोजित किया गया था। यह प्रदर्शन झुग्गी-झोंपड़ियों के तोड़ने के खिलाफ था। इसके समर्थन में जशोदाबेन यहां हिस्सा लेने पहुंची थीं।

कौन हैं जशोदाबेन

बता दें कि जशोदाबेन भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की पत्नी और रिटायर्ड स्कूल टीचर हैं। विकिपीडिया से प्राप्त जानकारी के मुताबिक पीएम मोदी और जशोदाबेन का विवाह वडनगर में साल 1968 में हुआ था।

शेयर करें

मुख्य समाचार

बंगाल में कोरोना वायरस की वजह से दुर्गापूजा की फीकी पड़ सकती है रौनक

कोलकाता : पश्चिम बंगाल का सबसे बड़ा त्यौहार दुर्गा पूजा कोरोना वायरस के आर्थिक प्रभाव के चलते बजट पर असर पड़ने जा रहा है और आगे पढ़ें »

देश में कोविड-19 के मामले बढ़कर 1965, मृतक संख्या 50, नौ नए मामले आए सामने

नयी दिल्ली : देश में कोविड-19 के मामले बढ़कर गुरुवार को 1,965 हो गए और वहीं इससे अब तक 50 लोगों की जान जा चुकी आगे पढ़ें »

ऊपर