जब ब्रेकअप के बाद कियारा का हुआ बुरा हाल, कई दिनों तक कमरे में रहीं लॉक

मुंबईः बॉलीवुड की मशहूर अभिनेत्री आलिया भट्ट और रणबीर कपूर की शादी के बाद कई सेलेब्स की शादी करने पर फैन्स की नजर बनी हुई है। इसमें से एक नाम कियारा आडवाणी और सिद्धार्थ मल्होत्रा का भी सामने आ रहा था। फैन्स ‘शेरशाह’ की ऑनस्क्रीन जोड़ी को रियल लाइफ में भी एक होते देखना चाहते थे, लेकिन अफसोस, उनकी यह इच्छा अब शायद पूरी न हो। अब ऐसी खबरें सुर्खियां बटोर रही है कि कियारा आडवाणी और सिद्धार्थ मल्होत्रा का ब्रेकअप हो चुका है। हालांकि, दोनों में से किसी ने भी इस पर कोई बयान जारी नहीं किया है। दोनों में से किसी ने भी खुलकर अपने रिलेशनशिप की खबरें भी कन्फर्म नहीं की थीं। हालांकि, दोनों को साथ में कई वेकेशन्स पर एक साथ स्पॉट किया जाता था। मालदीव से लेकर रणथंभोर तक दोनों ट्रिप पर साथ गए हैं। दोनों ही अब एक-दूसरे संग सोशल मीडिया पर फोटोज भी पोस्ट करने से कतराते नजर आ रहे हैं। रिपोर्ट्स की मानें तो सिद्धार्थ मल्होत्रा और कियारा आडवाणी के बीच कुछ भी ठीक नहीं चल रहा है। दोनों ने अपनी राह अलग कर ली है। हालांकि, अभी तक इसके पीछे की वजह सामने नहीं आ पाई है।
एक्ट्रेस ने कही थी यह बात
इसी बीच कियारा आडवाणी का एक पुराना इंटरव्यू वायरल हो रहा है, जिसमें वह अपने टूटे हुए दिल का हाल बताती नजर आ रही हैं। कियारा का सिद्धार्थ मल्होत्रा से पहले भी रिलेशनशिप रहा है, जिसके बाद ब्रेकअप के बारे में बात करते हुए एक्ट्रेस ने कहा था कि मैं खुद के साथ थी। कोई मेरे पास रहे, मुझे बिल्कुल अच्छा नहीं लगता था। मैं अपने बेड से भी कितनी बार बाहर आने से कतराती थी। मैं वहीं रहना चाहती थी। मेरे दोस्तों ने मुझसे कहा कि तुम्हें उस शख्स से बाहर आना होगा और रोना बंद करना होगा। देखा जाए तो रोना ठीक होता है, लेकिन उस इंसान के लिए नहीं जो तुम्हें छोड़कर इस तरह चला जाए। तुम आगे मूव ऑन करो और लोगों के साथ मिला करो कि वे तुम्हारी जिंदगी का हिस्सा बन सकें।
कियारा आडवाणी ने रिलेशनशिप के बारे में कहा था कि वह मेरा पहला प्यार था जो काफी लंबा चला। हम साथ में बड़े हुए, इसलिए हमारी इक्वेशन भी काफी अलग थी। आज भी वह इंसान मेरा दोस्त है। एक ऐसा इंसान है, जिसे मैं कभी भी किसी भी स्थिति में फोन करके बात कर सकती हूं।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

असम के CM हिमंत बिस्वा सरमा की मांग : खत्म हो ‘मदरसा’ शब्द का अस्तित्व

असम : असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने देश के सभी स्कूलों में एक समान और 'सामान्य शिक्षा' पर जोर देते हुए कहा कि आगे पढ़ें »

ऊपर