राजस्थान के अजमेर में छात्र संगठनों ने फिल्म पानीपत को लेकर विरोध प्रदर्शन किया

panipat

अजमेर : राजस्थान के अजमेर में आज छात्र संगठनों ने फिल्म पानीपत को लेकर विरोध प्रदर्शन किया। सम्राट पृथ्वीराज चौहान राजकीय महाविद्यालय छात्रसंघ के अध्यक्ष विकास गोरा तथा विद्यार्थी परिषद से जुड़े सीताराम चौधरी के नेतृत्व में छात्रों का समूह अजमेर जिलाधीशालय पहुंचा और जिला कलेक्टर को ज्ञापन देकर फिल्म पानीपत के प्रदर्शन पर रोक लगाने की मांग की।

इतिहास को तोड़-मड़ोकर पेश किया जा रहा

छात्रों ने महाराजा सूरजमल अमर रहे तथा फिल्म पर रोक लगाने के लिए नारेबाजी कर प्रदर्शन किया। बाद में श्री गोरा ने मीडिया को बताया कि जिला कलेक्टर ने उन्हें आश्वस्त किया है कि फिल्म पानीपत के प्रदर्शन पर उचित कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि फिल्म निर्माता निर्देशकों द्वारा पहले जोधा-अकबर, फिर पद्मावत तथा अब पानीपत फिल्म में इतिहास को तोड़ मड़ोड़कर पेश कर युवा पीढ़ी को भ्रमित करने का काम किया है जिसका समाज में गलत संदेश जा रहा है।

महाराजा सूरजमल का चित्रण गलत तरीके से किया गया है

उन्होंने आरोप लगाया कि निर्माता आशुतोष गोवारिकर ने फिल्म में साक्ष्यों से छेड़छाड़ कर पूर्व महाराजा सूरजमल का चित्रण गलत तरीके से किया है और उन्हें गुलामों के रूप में दिखाया गया है। जबकि वास्तविकता ये है कि महाराजा सूरजमल साहसी थे। छात्र समूह ने फिल्म पर रोक लगाने की मांग के साथ चेताया कि शाम तक फिल्म के प्रदर्शन पर रोक नहीं लगाई गई तो छात्र उग्र प्रदर्शन करेंगे।

शेयर करें

मुख्य समाचार

bobade

अत्यधिक कर वसूलना सामाजिक अन्याय : जस्टिस बोबडे

नई दिल्ली : शीर्ष न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश शरद अरविंद बोबडे ने देश की जनता पर कर का बोझ कम करने तथा राष्ट्र के चहुंमुखी आगे पढ़ें »

missile

6 दिन में दूसरी बार भारत ने किया स्वदेश निर्मित K-4 बैलिस्टिक मिसाइल का सफल परीक्षण

नई दिल्ली : भारत ने शुक्रवार सुबह विशाखापट्टनम के तट से 3500 किलोमीटर की मारक क्षमता वाली स्वदेश निर्मित K-4 बैलिस्टिक मिसाइल का सफल परीक्षण आगे पढ़ें »

ऊपर