तो इस वजह से ‘बिग बॉस’ के बाद टीवी से दूर हो गई थीं शिल्पा शिंदे, बोलीं- ‘मैं विनर थी इसलिए…’

कोलकाता : टीवी एक्ट्रेस शिल्पा शिंदे ने ‘भाबी जी घर पर है’ से छोटे पर्दे पर धमाल मचा दिया था। उनका ‘अंगूरी भाभी’ का रोल दर्शकों के दिलों पर छा गया था। भले ही उन्होंने शो छोड़ दिया हो, लेकिन आज भी लोग उन्हें अंगूरी भाभी के रूप में मिस करते हैं। एक्ट्रेस एक दमदार पर्सनैलिटी थीं, जिसके चलते वह ‘बिग बॉस 11’ की विनर बनी थीं। ‘बिग बॉस’ का विनर बनने के बाद जहां सितारों की किस्मत चमक जाती है तो वहीं शिल्पा शिंदे कई सालों तक टीवी इंडस्ट्री से दूरी रहीं। उन्होंने शो जीतने के बाद किसी टीवी सीरियल में भी काम नहीं किया। बीबी विनर्स अक्सर बड़े प्रोजेक्ट्स करते हैं, साथ ही शो में गेस्ट के रूप में भी आते हैं, लेकिन शिल्पा उनसे अलग रहीं।
‘बिग बॉस’ के बाद टीवी से क्यों दूर थीं शिल्पा शिंदे?
शिल्पा शिंदे ने बताया कि, आखिर वह क्यों टीवी से दूर रहीं। शिल्पा ने कहा कि, वह नहीं चाहती थीं कि लोग उनके साथ इसलिए काम करें क्योंकि वह बीबी की विनर थीं। एक्ट्रेस ने कहा, “बिग बॉस जीतने के बाद मैंने तय किया था कि मैं उन लोगों के साथ काम नहीं करूंगी जो मेरे साथ काम करना चाहते हैं। वे मेरे साथ सिर्फ इसलिए काम करना चाह रहे थे, क्योंकि मैं शो की विनर थी। हालांकि, मुझे शो करते हुए काफी समय हो गया है और अब अगर कोई मेरे साथ काम करना चाहता है तो मैं इसके लिए तैयार हूं।”
सोशल मीडिया और टीवी में ज्यादा एक्टिव रहना चाहती हैं शिल्पा शिंदे
‘बिग बॉस’ एक ऐसा शो है, जिसने कई सेलिब्रिटीज को पॉपुलैरिटी दिलाई है। सोशल मीडिया पर उनकी फॉलोइंग भी बढ़ी है, लेकिन शिल्पा का मानना है कि, उन्होंने इन सब चीजों को मिस कर दिया है। शिल्पा शिंदे ने कहा, “उस समय सोशल मीडिया के लिए उतना क्रेज नहीं था, जितना अब है। जब तक मैंने शो किया, तब तक मैं सोशल मीडिया पर भी नहीं थी। अगर मैंने ‘बिग बॉस’ के दौरान मिली पॉपुलैरिटी का उस वक्त फायदा नहीं उठाया तो अब उठाऊंगी। मैं सोशल मीडिया पर ज्यादा एक्टिव रहने की कोशिश करूंगी और टीवी पर भी ज्यादा काम करूंगी। मेरे रास्ते में जो भी अच्छा काम आएगा, मैं उसे कर लूंगी।”

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

दुर्गापूजा के रंग में बारिश ने डाला भंग

कोलकाता : इस वक्त की बड़ी खबर आ रही है कि आज षष्ठी के साथ ही महानगर में बारिश की शुरुआत हो गयी है। मालूम आगे पढ़ें »

‘नीतीश या लालू नहीं… इस बार बिहार की जनता चाहती है बदलाव’

बिहार : बिहार में वैकल्पिक राजनीति की बात करने वाले प्रशांत किशोर 2 अक्टूबर गांधी जयंती से बिहार में प्रदेशव्यापी जन सूरज पदयात्रा शुरू करने आगे पढ़ें »

ऊपर