‘फिल्ममेकर्स अब बॉडी से ज्यादा आंखों में टैलेंट देखने लगे हैं’

नई दिल्ली : साल 2000 में शेफाली जरीवाला ने ‘कांटा लगा’ गाने से करियर की शुरुआत की थी। एक्ट्रेस का मानना है कि फिल्ममेकर्स उनमें एक नई लाइट देख रहे हैं। एक्टिंग का टैलेंट देख पा रहे हैं। केवल उनके लुक्स पर ही फोकस नहीं कर रहे हैं। शेफाली जरीवाला के पास कई प्रोजेक्ट्स आ रहे हैं, जिन्हें करने के बारे में एक्ट्रेस फिलहाल सोच-विचार कर रही हैं। बता दें कि शेफाली जरीवाला फिटनेस को लेकर काफी जागरुक रहती हैं। जिस तरह का काम उनके पास आ रहा है, उसके लिए फिट होना बेहद जरूरी है।

शेफाली जरीवाला ने कही यह बात

शेफाली जरीवाला कहती हैं, “मुझे कुछ महत्वपूर्ण किरदार निभाने के लिए मिल रहे हैं। इससे पहले तो मुझे केवल ग्लैमरस रोल्स ही करने के लिए मिलते थे। मैं खुद को अब और ये चीजें करते नहीं देखती हूं जो मैं कर चुकी हूं। अब मैं नहीं जानती कि चीजें मेरे लिए बदली कैसे, लेकिन जैसे भी बदलीं बेहद खूबसूरती से बदली हैं। फिल्ममेकर्स मेरे में भरोसा दिखा रहे हैं, मेरी आंखों में टैलेंट देख रहे हैं, अब उन्हें बॉडी से कोई मतलब नहीं है। जिस तरह के किरदार निभाने के लिए मेरे पास ऑफर आ रहे हैं, वह बेहद अलग हैं।”

शेफाली जरीवाला का कहना है कि ओटीटी स्पेस के चलते ही चीजों में बदलाव देखने को मिल रहे हैं। शेफाली जरीवाला कहती हैं कि वेब की दुनिया ने मेरे लिए कई विकल्प ओपन करे हैं। मैं हर महीने अब शूटिंग कर रही होती हूं। जो भी किरदार मैं निभा रही हूं, वह बेहद खूसूरत है। कहानी बहुत अलग है। इस तरह की स्क्रिप्ट्स का मैं हिस्सा हूं, मेरे लिए यह बड़ी बात है। 

बता दें कि शेफाली जरीवाला इस समय दो प्रोजेक्ट्स पर काम कर रही हैं। ओटीटी की दुनिया में वह जल्द ही कदम रखने जा रही हैं। शेफाली जरीवाला को आप जल्द ही ‘रात्री के यात्री’ सीजन 2 में देखेंगे। इसके अलावा वह एक वेब सीरीज में ग्लैमरस अवतार में नजर आने वाली हैं। शेफाली जरीवाला इस समय सेट पर वापस जाने को लेकर काफी एक्साइटेड हैं, वह भी पेंडेमिक के समय में।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

दुखदः गमगीन हुआ कोलकाता का माहौल

- पर्वतारोहियों के पार्थिव शरीर कोलकाता हवाईअड्डे पहुंचे कोलकाताः उत्तराखंड में खराब मौसम के कारण जान गंवाने वाले पश्चिम बंगाल के पांच पर्वतारोहियों के पार्थिव शरीर आगे पढ़ें »

ऊपर