अब्दू संग साजिद का भद्दा मजाक, गुस्से में स‍िंगर की टीम

नई दिल्ली : हाल ही में बिग बॉस 16 कंटेस्टेंट अब्दू रोजिक के साथ, बाकी घरवालों ने मजाक के नाम पर कुछ ऐसा किया जिससे उनके फैन्स को बहुत गुस्सा आ गया। इस एपिसोड में अब्दू ने निमरत कौर अहलूवालिया को बर्थडे विश करने के लिए, शर्टलेस होकर अपनी पीठ पर मैसेज लिखवाने का फैसला किया। लेकिन उनकी पीठ पर ‘आई लव यू निमरत’ लिखने की बजाय ‘आई लव *ट्टी’ लिख दिया गया।
चूंकि अब्दू को हिंदी लिखने-पढ़ने नहीं आती तो उन्हें पता भी नहीं चला कि उनकी पीठ पर क्या लिखा गया है। उनके साथ बाकी कंटेस्टेंट्स का ये बर्ताव फैन्स को नहीं पसंद आया और उन्होंने ट्विटर पर #StopBullyingAbduRozik ट्रेंड करवाना शुरू कर दिया। इसका मतलब था कि अब्दू रोजिक को बुली करना बंद किया जाए। फैन्स की आलोचना के बाद अब अब्दू रोजिक की टीम ने ऑफिशियल बयान जारी कर के, उनके साथ हुए बर्ताव को ‘भेदभाव से भरा’ और ‘मैनिपुलेटिव’ बताया। अब्दू की टीम ने बिग बॉस के मेकर्स से एक्शन लेने की मांग भी की।
अब्दू की टीम का बयान
तजाकिस्तानी सिंगर की टीम ने कड़ी आलोचना करते हुए बयान में लिखा, ‘अपने क्लाइंट अब्दू रोजिक को, बिग बॉस के घर में इस तरह के अनुपयुक्त और भेदभाव भरे बर्ताव से गुजरता देख IFCM टीम निराश और शॉक्ड महसूस कर रही है। एक मासूम व्यक्ति, जो इस तरह की एक्टिविटी के पीछे का गणित नहीं समझता, उसकी सादगी और विनम्रता का फायदा उठाना, और अपने दुर्भावपूर्ण फायदे के लिए उसकी भावनाओं से खेलना और इस तरह का मैनिपुलेटिव बर्ताव करना नैतिक रूप से बहुत गलत है।’
साथी कंटेस्टेंट्स से थी मानवीय बर्ताव की उम्मीद
अब्दू अपनी भाषा के अलावा कोई दूसरी भाषा नहीं पढ़ और लिख सकते। अब्दू की टीम ने लिखा कि ऐसे में ‘लिखे हुए का पूरा अर्थ बताए बिना उनकी पीठ पर लिखना’ उनके ट्रस्ट और इंटीग्रिटी का उल्लंघन है। स्टेटमेंट में कहा गया, ‘हम ऐसे अलगाव भरे और असभ्य बर्ताव की निंदा करते हैं और इस बात के आभारी हैं कि हमें दर्शकों और फैन्स का लगातार सपोर्ट मिलता है। अब्दू एक बाहरी देश में हैं और हमें कंटेस्टेंट्स से मानवीय बर्ताव की उम्मीद थी।’

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

रेडियो के जरिए लोगों को साइबर क्राइम के प्रति जागरूक कर रही है कोलकाता पुलिस

अगले दो महीने तक रेडियो पर चलेगा विज्ञापन सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : कोलकाता पुलिस के साइबर सेल की ओर से महानगर में विभिन्न तरह के साइबर क्राइम आगे पढ़ें »

इन 5 मौकों पर घर में कभी नहीं बनानी चाहिए रोटी, टूट पड़ता है दुखों का पहाड़

कोलकाता : आपने एकादशी पर अक्षत यानी चावल न बनाने के शास्त्रीय नियमों के बारे में तो सुना ही होगा। लेकिन क्या आपको पता है आगे पढ़ें »

ऊपर