रजनीकांत को 50वें भारतीय इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल में दिया जाएगा यह सम्मान

Rajnikant

नई दिल्ली : 50वें भारतीय इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल में सुपरस्टार रजनीकांत को आइकॉन ऑफ द गोल्डन जुबली आईएफएफआई 2019 के अवार्ड से सम्मानित किया जाएगा। शनिवार को केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने यह घोषणा की है कि इस समारोह में बॉलीवुड और साउथ की महान फिल्मी हस्ती रजनीकांत को सिनेमा में अभूतपूर्व योगदान के लिए सम्मानित किया जाएगा। यह समारोह 20 से 28 नवंबर के बीच गोवा में होगा।

रजनी ने सरकार को दिया धन्यवाद

इस सम्मान की सूचना के बाद रजनीकांत ने सोशल मीडिया के जरिए सरकार को धन्यवाद किया है। गौरतलब है कि अब तक रजनीकांत लगभग 160 फिल्मों में अभिनय कर चुके हैं। उन्होंने तमिल फिल्म अपूर्व रागंगल (1975) से फिल्मी जगत में अपनी शुरुआत की थी। आखिरी बार उन्हें तमिल फिल्म पेट्टा में देखा गया, जो इसी वर्ष जनवरी में परदे पर आयी थी। उनकी आने वाली फिल्म का नाम दरबार बताया जा रहा है जो कि अगले वर्ष 15 जनवरी को रिलीज होने जा रही है। रजनीकांत ने बॉलीवुड में अंधा कानून, भगवान दादा, चालबाज, हम, इंसानियत के देवता और फूल बने अंगारे जैसी हिट फिल्मों में काम किया।

पद्म भूषण और पद्म विभूषण से नवाजे जा चुके हैं रजनी

गौरतलब है कि रजनीकांत भारत सरकार द्वारा देश के दो श्रेष्ठ सम्मानों पद्म भूषण और पद्म विभूषण से नवाजे जा चुके हैं। उन्हें 2014 में गोवा में इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल में सेनेटरी अवॉर्ड फॉर इंडियन फिल्म पर्सनैलिटी ऑफ द ईयर से सम्मानित किया गया था।

शेयर करें

मुख्य समाचार

पटना का महावीर मंदिर ट्रस्ट अयोध्या के राम मंदिर के श्रद्धालुओं के लिए रसोई चलाएगा

अयोध्या : राम मंदिर के दर्शन के लिए अयोध्या के बाहर से आने वाले श्रद्धालुओं के लिए बिहार का महावीर मंदिर ट्रस्ट सामुदायिक भोज की आगे पढ़ें »

विकास का इंतजार कर रहा है औरंगाबाद का रढुआ धाम

औरंगाबाद : बिहार के औरंगाबाद जिले में ऐतिहासिक, पौराणिक और धार्मिक महत्व के रढुआ धाम को आज भी विकास का इंतजार है। जिले के जम्होर पंचायत आगे पढ़ें »

ऊपर