राज कुंद्रा की गिरफ्तारी के बाद क्यों डिलीट किया गया डाटा?

पुलिस कर रही CCTV फुटेज की जांच

कोलकाता : बॉलीवुड एक्ट्रेस शिल्पा शेट्टी के पति राज कुंद्रा की मुश्किलें खत्म होने का नाम नहीं ले रही हैं। 27 जुलाई तक उन्हें न्यायिक हिरासत में रखे जाने का फैसला सुनाया गया है। इस वक्त शि‍ल्पा शेट्टी के घर क्राइम ब्रांच की टीम पूछताछ कर रही है। इस बीच पुलिस के हाथ अहम सबूत लगे हैं, जिसमें सबसे चौंका देने वाली बात यह है कि राज कुंद्रा की गिरफ्तारी के बाद सर्वर से काफी डाटा डिलीट कर दिया गया है।

सीसीटीवी फुटेज कर रही पुलिस चेक
पुलिस इस समय उस शख्स को ढूंढने में लगी है, जिसने यह डाटा सर्वर से डिलीट किया है। इसके अलावा वह सीसीटीवी फुटेज की भी छानबीन कर रही है। फॉरेंसिक एक्स्पर्ट की टीम डाटा को बचाने की कोशिश में जुटी हुई है। बता दें कि एक क्रिकेट बेटिंग कंपनी का भी नाम इस मामले में सामने आ रहा है। इस कंपनी का नाम मर्करी इंटरनेशन है। इस कंपनी के अकाउंट से राज कुंद्रा के अकाउंट में भारी मात्रा में रकम ट्रांसफर की जा रही थी।

इसके अलावा पुलिस यह ढूंढने की कोशिश में लगी है कि जो मुनाफा पोर्नोग्राफी रैकेट ने कमाया है, उसे राज कुंद्रा क्रिकेट बेटिंग की ओर लेकर जाने में मदद कर रहे थे या नहीं। पुलिस इस एंगल से भी मामले की छानबीन में लगी है। बता दें कि राज कुंद्रा ने हाई कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है। उन्होंने कहा है कि 41A नोटिस मुंबई पुलिस द्वारा उन्हें नहीं दिया गया था।

41A नोटिस, पुलिस के सामने पेशी के लिए होता है। इस नोटिस के मिलने के बाद इसके नियमों का पालन व्यक्ति को करना पड़ता है। अगर व्यक्ति ऐसा करता है तो उसे अपने आरोपों के लिए गिरफ्तार नहीं किया जा सकता, लेकिन उसे रिकॉर्डिंग के लिए ले जाया जा सकता है। हालांकि अगर व्यक्ति नोटिस के नियमों को नहीं मानता तो उसकी गिरफ्तारी हो सकती है।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

सुबह से ही दिख रहा है महानगर में गुलाब का असर

कोलकाता : मौसम विभाग की ओर से बताया गया कि म्यांमार तट पर निम्न दबाव बना है जिस कारण पश्चिम बंगाल के दक्षिणी जिलों में आगे पढ़ें »

ऊपर