ओटीटी प्लेटफॉर्म के लिए कैसे बनता है इरॉटिक कॉन्टेंट, गहना वशिष्ठ ने खोले राज

मुंबईः इंडस्ट्री के जाने-माने बिजनेसमैन राज कुंद्रा को 14 दिन की रिमांड पर भेजा जा चुका है। पोर्नोग्राफी मामले में राज कुंद्रा से जुड़े अपडेट्स लगातार सामने आ रहे हैं। अब एक न्यूज चैनल के हाथ पोर्न रैकेट केस में शामिल एक शख्स का ईमेल लगा है। उमेश कामत उसमें वीडियो की डिमांड करते नजर आए। यह सभी वीडियोज हॉटशॉट द्वारा तीन लाख रुपये में खरीदी गई हैं। इन वीडियोज में अश्लील सीन्स हैं। इस केस में गहना वशिष्ठ का भी नाम सामने आया है। उनका कहना है कि कामत इस तरह के वीडियोज की डिमांड करते थे जो पोर्न तो नहीं, लेकिन इरॉटिक जरूर होती थीं। साथ ही उसमें अश्लील कॉन्टेंट भी होता था। इसके अलावा इनमें गाने भी होते थे। प्रोड्यूसर्स आर्टिस्ट को फाइनल करते थे। वीडियो के लिए लोकेशन तय होती थी और तब कहीं जाकर शूट शुरू होता था।
आर्टिस्ट संग कामत पर्सनली बात करते थे। शूट से पहले और बाद में भी चीजें वही कन्फर्म करते थे। साथ ही यह सुनिश्चित करते थे कि आर्टिस्ट बोल्ड सीन्स करने को लेकर राजी है। गहना ने आगे कहा कि हॉटशॉट के लिए जो शूट होता था उसका बजट तीन लाख रुपये के आसपास रहता था। हर तरह का खर्च करने के बाद प्रोड्यूसर 25 से 30 हजार अपने पास रखता था। यह सभी कॉन्टेंट रेड ड्रैगन कैमरे में शॉट किए जाते थे, जोकि काफी महंगा कैमरा होता है। इसके अलावा आर्टिस्ट की पेमेंट, सपोर्टिंग स्टाफ, कपड़े और लोकेशन। प्रोड्यूसर कुछ ही दिनों में इस शूट को पूरा करने की कोशिश करता था, क्योंकि शूट के ज्यादा दिन मतलब ज्यादा खर्च।

नहीं किया जाता किसी महिला को फोर्स
बता दें कि गहना वशिष्ठ ने हॉटशॉट के लिए कुछ समय पहले कॉन्टेंट बनाया है। इसके साथ ही उन्होंने कहा है कि किसी भी महिला को इस तरह के शूट करने के लिए उकसाया नहीं जाता था। हर महिला इसमें अपनी मर्जी से चीजें करती थी। शूट के बाद हर आर्टिस्ट से कहा जाता था कि वीडियो को लेकर कोई आपत्ति नहीं उठाएगा और न ही यह कहेगा कि उसने वह शूट अपनी मर्जी के खिलाफ किया। यहां तक कि जिस प्लेटफॉर्म के लिए हम शूट कर रहे हैं उस पर भी कोई ऊंगली नहीं उठाएगा।
गहना का कहना है कि मैंने पांच महीने जेल की सलाखों के पीछे बिताए। मैं पांच सेकेंड के लिए भी जेल डिजर्व नहीं करती हूं। मुझे नहीं पता कि इस केस में मेरा नाम कैसे आया। मैं राज कुंद्रा और उमेश कामत दोनों को जानती हूं। अगर किसी महिला को कुछ करने के लिए फोर्स किया जाता है तो वह खुद सेट पर लगातार क्यों आती रहेंगी? या बाद में उस तरह की वीडियोज को प्रमोट भी क्यों करेंगी? मुझे नहीं लगता कि किसी महिला को इन वीडियोज के लिए फोर्स किया जाता है। पिछले 11 सालों से मैं इस इंडस्ट्री का हिस्सा हूं। मेरे साथ आज से पहले कभी कुछ खराब नहीं हुआ। मुझे नहीं समझ आता कि क्यों लोग मुझे टारगेट कर रहे हैं।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

तृणमूल में जाने की चर्चाओं को नकारा अशोक लाहिड़ी ने

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : विधानसभा चुनाव के नतीजे आने के बाद से ही प्रदेश भाजपा में टूट जारी है। सांसद बाबुल सुप्रियो समेत कई विधायक अब आगे पढ़ें »

ऊपर