पानीपत को लेकर अफगानिस्तान में छिड़ी बहस,क्या है पूरा मामला

Abdali

मुंबई : ट्रेलर और पोस्टर जारी होने के बाद फिल्म ‘पानीपत’ पर अफगानिस्तान में बहस छिड़ गई है। पानीपत की ऐतिहासिक लड़ाई पर बनी फिल्म में अर्जुन कपूर, कृति सेनन और संजय दत्त अहम भूमिका में है। इसमें भारत के मराठाओं और अफगानी शासक अहमद शाह अब्दाली के बीच हुआ युद्ध दिखाया गया है। अफगानिस्तान में कुछ सोशल मीडिया यूजर्स ने निर्माताओं और प्रशासन को अब्दाली के किरदार को नकारात्मक न दिखाने की मांग की है। दरअसल, अब्दाली को अफगान में सम्मान से ‘अहमद शाह बाबा’ कहते हैं।

संजय दत्त निभा रहे हैं अब्दाली का रोल

फिल्म पानीपत में संजय दत्त, अब्दाली का रोल निभा रहे हैं। वे इस फिल्म के विलेन बने हैं। अब्दुल्ला नूरी नाम के एक यूजर ने ट्वीट किया, डियर बॉलीवुड, मैं अफगानिस्तान से हूं और लाखों अन्य अफगानों की तरह बॉलीवुड का मुरीद हूं। संजय दत्त मेरे फेवरेट एक्टर हैं। मुझे उम्मीद है कि पानीपत फिल्म में अहमद शाह दुर्रानी (अब्दाली) का कोई अपमान नहीं किया होगा।’

अहमद शाह अब्दाली का ना हो अपमान

रिपोर्ट के अनुसार पुणे के सदाशिवराव भाऊ पेशवा और अहमद शाह अब्दाली के बीच हुए पानीपत के तीसरे युद्ध पर आधारित इस फिल्म की रिलीज को लेकर अफगान सरकार परेशान है। सूत्रों के मुताबिक गुजरे दौर में हुए युद्ध पर आधारित होने के कारण सरकार नहीं चाहती कि इस समय यह फिल्म रिलीज हो। ट्रेलर रिलीज होने के बाद से ही अफगानिस्तान में सोशल मीडिया पर संजय दत्त के किरदार को लेकर गहमागहमी शुरू हो गई है। यूजर्स का कहना है कि फिल्म में अहमद शाह अब्दाली के चरित्र से कोई छेड़छाड़ नहीं होनी चाहिए।

फिल्ममेकर्स से बात कर रहे हैं अफगान राजनयिक

अफगानिस्तान के वाणिज्य दूतावास अधिकारी नसीम शरीफी ने मामले पर ट्वीट किया है कि संजय दत्त ने मुझे भरोसा दिलाया है कि अगर अहमद शाह के किरदार के साथ कोई खराबी होती तो वे इसे करते ही नहीं। उन्होंने लिखा कि पिछले डेढ़ साल से भारत में मौजूद राजनयिक यह कोशिश कर रहे हैं कि फिल्म में अहमद शाह बाबा के किरदार का अपमान ना हो। पश्तून के ऐतिहासिक किरदार अहमद शाह अब्दाली नए अफगानिस्तान के निर्माता हैं, जिसके चलते वहां पर उन्हें बाबा कहा जाता है।

अहमद शाह बाबा हमारे हीरो हैं

हालांकि, कुछ अन्य यूजर्स ने समय से पहले प्रतिक्रिया देने को गलत बताया है। इसके अलावा अब्दाली की ऐतिहासिक भूमिका पर अलग तरह के नजरिए को भी स्वीकार करने की अपील की है। मोहम्मद कासिल अकबर सफी ने पश्तो भाषा के शमशाद टीवी की ओर से इस विषय पर डाले गए पोस्ट पर कमेंट करते हुए कहा, ‘अहमद शाह बाबा हमारे हीरो हैं। हमें उनपर गर्व है। हालांकि, भारतीयों को युद्ध में काफी नुकसान उठाना पड़ा था। वे उनके लिए हीरो नहीं हैं।’

आशुतोष गोवारिकर की यह फिल्म साल के अंत में 6 दिसंबर को सिनेमाघरों में पहुंचेगी। संजय दत्त के अलावा फिल्म में अर्जुन कपूर सदाशिव राव का किरदार निभा रहे हैं, वहीं कृति सनन उनकी पत्नी पार्वती बाई के रोल में हैं। 

शेयर करें

मुख्य समाचार

सीएए को लेकर पूर्वोत्तर में राजनीति और विरोध जारी

मोदी व शाह को स्थिति से अवगत करायेंगे सर्बानंद सोनोवाल याचिका दायर करेगी असम कांग्रेस तथा अगप गुवाहाटी : नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) के विरोध में असम आगे पढ़ें »

सन् 2017 के बाद से किसानों की आत्महत्या के आंकड़ें केंद्र सरकार के पास नहीं

नयी दिल्ली : कृषि क्षेत्र से जुड़े कुल 11,379 व्यक्तियों ने 2016 के दौरान आत्महत्या कर ली थीं लेकिन उसके बाद से किसानों द्वारा आत्महत्या आगे पढ़ें »

ऊपर