अनुपमा को किचन से बाहर कर देगी मालविका, भाई अनुज पर जताएगी अपना हक

नई दिल्ली : टीवी शो ‘अनुपमा’ में इन दिनों मालविका की एंट्री से कहानी में एक नया मोड़ लाने की कोशिश की गई है। एक बार फिर अनुपमा की जिंदगी में भूचाल आने वाला है, उसकी प्रेम कहानी पर शुरू होने से पहले ही ग्रहण लगने वाला है। आपने अब तक देखा कि अनुपमा होटल से अनुज के घर नहीं जाती है और अनुज फिर खुद ही उसके घर आ जाता है।
वनराज ने की सुधरने की कोशिश
आज के एपिसोड में आप देखेंगे कि मालविका अनुपमा के बारे में जीके से पूछताछ करेगी। वनराज के बच्चे पार्टी को लेकर अपने पापा की बहुत तारीफ करेंगे। वनराज बच्चो को कहेगा कि अब सबको अनुपमा को स्पेस देना चाहिए, ताकि वो अपनी जिंदगी अपने हिसाब से जी सके। वनराज साथ ही किंजल की तारीफ करेगा। वनराज अपने बच्चों के साथ घुलने-मिलने की कोशिश करेगा। किंजल वनराज से कहेगी कि वो अपने और काव्या के रिश्ते को एक और मौका देने की कोशिश करे।
मालविका को पता लगेगा सच
अनुपमा जानने की कोशिश करेगी कि अनुज ने उसे क्यों नहीं बताया। अनुज इमोशनल होकर अनुपमा को सबकुछ बताने की बात कहेगा। दूसरी तरफ जीके मालविका को अनुज के एक्सीडेंट के बारे में बता देगा और ये भी बताएगा कि अनुपमा अनुज के घर में क्यों रहती है। वनराज चाहते हुए भी काव्या के साथ अपने रिश्ते को दूसरा मौका नहीं दे पाएगा।
25वें बर्थडे का किस्सा
अनुज बताएगा कि मालविका उसके जिंदगी का अहम हिस्सा है। वो बताएगा कि कैसे मालविका का व्यवहार घर में सबको परेशान करता था। लेकिन कोई उसे कुछ बोल नहीं पाया। अनुज ने बताया कि 25वें जन्मदिन पर वो अपनी फैमिली के साथ बाहर गया था क्योंकि वो अपना बर्थडे बाहर मनाना चाहता था। अनुज बताएगा कि वो बाइक पर था और बाकी कार में थे और उसने बोला कि हम रेस लगाते हैं।
अनुज बताएगा कि रेस लगाते वक्त अनुज की बाइक को तो कुछ नहीं हुआ लेकिन गाड़ी का एक्सीडेंट हो गया। अनुज ये सब बताते हुए बहुत रोता है। आने वाले एपिसोड में आप देखेंगे कि मालविका, अनुपमा से पूछेगी कि क्या वो अनुज से प्यार करती है? मालविका की बात पर अनुज अनुपमा से माफी मांगेगा। वहीं मालविका भी अनुपमा को किचन से बाहर का रास्ता दिखाएगी।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

आज भगवान शिव के साथ करें हनुमान जी की अराधना, बजरंगबाण का पाठ करना भी है शुभ

कोलकाताः आज माघ माह कृष्ण पक्ष की द्वितीया है। आश्लेषा नक्षत्र है। आज भगवान शिव जी की उपासना के साथ हनुमान जी की पूजा भी आगे पढ़ें »

ऊपर