‘पहली शादी नहीं चली दोबारा करने का क्या फायदा’ मलाइका के साथ तलाक पर अरबाज खान ने बयां किया…

मुंबईः इस बात में कोई दो राय नहीं कि तलाक एक दिल दहला देने वाली प्रक्रिया है, जिससे कोई भी गुजरना नहीं चाहता है। खासकर भारत में जहां अभी भी तलाकशुदा लोगों को अपमानजनक नजरों से देखा जाता है। हालांकि, एक असफल विवाह में खुद को पीड़ा पहुंचाने से अच्छा है कि दोनों लोग आपसी सहमति से उस रिश्ते को खत्म करके फिर से एक नई शुरूआत करें। लेकिन एक दर्दनाक तलाक के बाद पुनर्विवाह का फैसला लेना इतना आसान नहीं होता।
तलाक लेने वाले ज्यादातर कपल्स को दर्द, चोट और नकारात्मकता जैसी भावनाओं से गुजरना पड़ता है, जिसकी वजह से ऐसे लोगों को पुनर्विवाह में बंधना असुरक्षित और पीड़ा पहुंचाने वाला लगता है। हालांकि, इन बातों पर अरबाज खान ने जो कुछ कहा है, वह शायद कई तलाकशुदा लोगों की जिंदगी में दुख के बादल छांटने जैसा है।

तलाक लेना नहीं आसान
भले ही मलाइका अरोड़ा और अरबाज खान का रिश्ता अब कागज के दो पन्नों पर सिमट के रह गया हो, लेकिन कभी यह कपल बॉलिवुड के सबसे इंस्पिरेशनल कपल्स में से एक हुआ करता था। इनका प्यार, बॉन्डिंग, आपसी समझ सब कुछ परफेक्ट सा लगता था। लेकिन जब इस कपल ने तलाक लेने का फैसला किया तो हर कोई हैरान रह गया।
18 साल तक एक-दूसरे का साथ निभाने के बाद दोनों साल 2017 में हमेशा-हमेशा के लिए अलग हो गए। तलाक के बाद जहां मलाइका का नाम अर्जुन कपूर के साथ जुड़ने लगा तो वहीं अरबाज की जिंदगी में जॉर्जिया एंड्रियानी ने एंट्री मारी। ऐसे में जब अरबाज से फिर से घर बसाने के बारे में पूछा गया, तो उन्होंने नौजवानों को शादी जरूर करने की सलाह दी।
अपनी बात को जारी रखते हुए एक्टर ने कहा ‘शादी एक ऐसी प्रथा है, जो हमारे देश में सालों-साल से चली आ रही है। कई बार कुछ शादियां नहीं चल पाती हैं लेकिन इसका मतलब यह बिल्कुल नहीं कि शादी जैसे बंधन में बंधना खराब है। मैं नौजवानों को शादी करने की सलाह दूंगा। मेरा रिश्ता जिस तरह से खत्म हुआ, उससे मुझे किसी तरह की कोई शिकायत नहीं है। हमारी जिंदगी में सबकुछ ठीक चल रहा था लेकिन अचानक ही चीजें बिगड़ने लगीं।
हालांकि, अब मेरी जिंदगी ठीक रास्ते पर है और हो सकता है कि मैं दोबारा घर बसा लूं। मैं ऐसा इंसान नहीं हूं जो यह कहता रहूं कि एक बार मेरी शादी नहीं चली तो दोबारा करने का क्या फायदा ? मैं फिर से शादी कर सकता हूं लेकिन तभी जब सही इंसान मेरी जिंदगी में होगा।’ हालांकि, अरबाज की यह बात उन लोगों के लिए एकदम सही है, जो गलत पार्टनर की वजह से अपने दिल के सारे रास्ते बंद कर लेते हैं।
पुनर्विवाह नहीं गलत
इस बात में कोई शक नहीं कि तलाक और दिल टूटने के घाव को ठीक होने में समय लगता है। लेकिन इसका मतलब यह बिल्कुल नहीं है कि उदास और भयानक महसूस करने के लिए आप बाध्य है। आपने तलाक के बाद पहले ही अपना एक साथी खो दिया है, जिसके साथ आप हर तरह की फीलिंग्स शेयर करते थे। लेकिन आप चाहें तो एक बार फिर अपनी लाइफ को ट्रैक पर ला सकते हैं।
हालांकि, जिंदगी में किसी की एंट्री को स्वीकार करना बहुत मुश्किल होता है लेकिन हमारा यकीन मानिए पुनर्विवाह जैसी चीजें आपके दर्द को कम करने का काम करेंगी।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

ऑक्सीजन कालाबाजारी मामला: नवनीत कालरा को तीन दिनों की पुलिस रिमांड में भेजा गया

नई दिल्ली: दिल्ली खान मार्केट में ऑक्सीजन कंसंट्रेटर की कालाबाजारी के आरोपी नवनीत कालरा को दिल्ली की साकेत कोर्ट ने तीन दिन की पुलिस रिमांड में आगे पढ़ें »

ममता बनर्जी के 2 मंत्री सहित 4 नेताओं को मिली जमानत

- सीबीआई की हिरासत की अर्जी खारिज कोलकाताः नारदा स्टिंग ऑपरेशन मामले में गिरफ्तार मंत्री सुब्रत मुखर्जी, मंत्री फिरहाद हकीम, पूर्व मे मेयर  शोभन चटर्जी और आगे पढ़ें »

ऊपर