राखी सावंत पर हुई एफआईआर, आदिवासी समुदाय का उड़ाया था मजाक

मुंबईः उर्फी जावेद के इंटरनेट सेंसेशन बनने से पहले राखी सावंत ही सोशल मीडिया की असली एंटरटेनर हुई करतीं थी। राखी सही मायनों में कॉनट्रोवर्सी क्वीन हैं और वो खबरों में बने रहना अच्छे से जानती हैं। कभी अपनी शादी की मिस्ट्री से तो कभी अपने तलाक से तो कभी अपने अतरंगी फैशन से, राखी सुर्खियां बटोरने का कोई मौका नहीं छोड़ती हैं। मगर इस बार सुर्खियों में बने रहने की ये चाहत राखी के लिए मुसीबत का सबब बन गई है। राखी सावंत के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज की गई है और इसकी वजह है कुछ समय पहले उनके द्वारा पहना गया एक आउटफिट। राखी ने अपने इस आउटफिट का जिन शब्दों में वर्णन किया था वो एक समुदाय को पसंद नहीं आया है। दरअसल राखी ने जो आउटफिट पहना था उसे उन्होंने अपना आदिवासी लुक बताया था, जिससे झारखंड में आदिवासी समाज के लोग उनसे नाराज़ हो गए हैं। राखी के खिलाफ रांची में  लिखित शिकायत भी दर्ज कारवाई गई है। ये शिकायत आदिवासी समाज के केन्द्रीय सरना समिति ने रांची के एसटी एससी थाने में दर्ज करवाई है। राखी का ये कथित वीडियो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हुआ था जिसमें वो कह रही हैं कि, “हाय गाइज, आप मेरा ये लुक देख रहे हैं आज। पूरा ट्राइबल लुक…पूरा आदिवासी जिसको हम कहते हैं।” विरोध के बाद राखी ने ये वीडियो अपने इंस्टाग्राम से हटा दिया है।

केंद्रीय सरना समिति के अध्यक्ष अजय तिर्की का कहना है कि जबतक राखी सावंत माफी नही मांगती तब तक हमारा विरोध चलता रहेगा। उन्होंने ये भी कहा कि आदिवासी समाज राखी सावंत पर कार्रवाई के साथ-साथ उनके बहिष्कार का भी ऐलान करता है। उन्होंने कहा कि ये उन सभी लोगों के लिए सीख होनी चाहिए जो आदिवासी समुदायों का सम्मान नहीं करते हैं।

राखी द्वारा ये बात कहना और ये वीडियो शेयर करना काफी भारी पड़ गया और अब वो लोगों के निशाने पर आ गई हैं। लोग उन्हें इस हरकत के लिए काफी ट्रोल कर रहे हैं। वहीं सरना समिति ने राखी सावंत पर यह आरोप लगाते हुए थाने में शिकायत दर्ज करवा दी कि उन्होंने अपने कपड़ों को आदिवासियों का लिबास बताकर अश्लीलता की हदें पार कर दी हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

सीएम के हस्तक्षेप से सुलझा ईस्ट बंगाल का मसला, इंवेस्टर बना इमामी ग्रुप

कोलकाता : आखिरकार ईस्टबंगाल की समस्या का समाधान मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की हस्तक्षेप के बाद कर लिया गया। अब ईस्ट बंगाल का इंवेस्टर इमामी समूह आगे पढ़ें »

ऊपर