सुशांत केस : उठ रहे सवालों पर सीबीआई ने लगाया पूर्ण विराम

नई दिल्ली: बॉलीवुड अभ‍िनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले की जांच जब सीबीआई को सौंपी गई तो उनके गुनहगारों को सजा और उनको न्याय दिलाने की उम्मीद पूरे देश में जग गई। इससे पहले मुंबई पुलिस पर रीया को बचाने और सबूत मिटाने का आरोप लगाया गया था पर हाल ही में सुशांत के पिता के वकील विकास सिंह के बयान ने सीबीआई की कार्यशैली पर सवालिया निशान उठा दिया है।

उन्होंने पूछा, ‘सीबीआई ने अब तक हत्या का केस क्यों नहीं दर्ज किया’। इसही के जवाब में सीबीआई ने अपना बयान जारी किया है। सीबीआई ने कहा, ‘सुशांत सिंह राजपूत की मौत मामले की सीबीआई पेशेवर तरीके से जांच कर रही है जिसमें हर पहलू को देखा जा रहा है और किसी भी पहलू को नकारा नहीं गया है. मामले की जांच जारी है।’

क्यों लग रहा है सीबीआई पर आरोप
ज्ञात हो कि सुशांत मामले में 106 दिन से अधिक बीत चुके हैं। अब तक केस की गुत्‍थी सुलझ नहीं पाई है। सीबीआई जांच को भी 40 दिनों से अधिक बीत चुके हैं। कुछ द‍िन पहले ही पहले विकास सीबीआई पर जांच में देरी का आरोप लगाते हुए दावा किया था कि अभ‍िनेता की गला दबाकर हत्या की गई थी। अब तक किसी भी पहलू को तारीख के रूप में खारिज नहीं किया गया है।

सीबीआइ जल्‍द ही सुशांत सिंह राजपूत की बहनों को पूछताछ के लिए बुला सकती है। सीबीआइ जांच पर महाराष्ट्र सरकार के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने कहा कि उन्हें भी नतीजे का बेसब्री से इंतज़ार है। बता दें कि सुशांत के परिजन भी सीबीआइ की जांच में देरी पर असंतोष ज़ाहिर कर चुके हैं। अनिल देशमुख ने कहा कि सुशांत सिंह राजपूत केस की जांच मुंबई पुलिस पूरे व्यावसायिक ढंग से कर रही थी, लेकिन अचानक यह केस सीबीआई को सौंप दिया गया। लोग पूछ रहे हैं कि उन्होंने आत्महत्या की या क़त्ल किया गया था। हम जांच के परिणाम का इंतजार कर रहे हैं।

इस मामले में दो दर्जन से अधिक लोगों से पूछताछ हो चुकी है। एनसीबी की ड्रग्‍स एंगल की जांच चल रही है, वहीं ईडी भी पैसों को लेकर तमाम बैंक अकाउंट खंगालचुकी है। एम्‍स की फोरेंसिक टीम तीन बार सीन रीक्रिएट कर चुकी है।

कहां तक पहुंचा ड्रग्स एंगल का मामला
14 जून को हुई अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की संदिग्ध मौत के बाद इस मामले के आर्थिक पक्ष की जांच के दौरान ईडी को रिया चक्रवर्ती एवं जया साहा के कुछ पुराने वॉट्सऐप चैट्स मिले, जिनमें पहली बार ड्रग्स का जिक्र आया था। ईडी ने इन चैट्स की जानकारी एनसीबी को दी, तो एनसीबी ने एसआईटी बनाकर मामले की जांच शुरू की।

शुरुआत में जया साहा, श्रुति मोदी, रिया चक्रवर्ती, दीपेश सावंत एवं सैम्युअल मिरांडा से पूछताछ होती रही। इनमें से तीन को गिरफ्तार किया जा चुका है। जया साहा से एनसीबी अब भी समय-समय पर पूछताछ करती रहती है क्योंकि जया एवं दीपिका न सिर्फ एक ही टैलेंट मैनेजमेंट कंपनी में काम करती हैं, बल्कि दोनों एक ही इमारत में रहती हैं, और दीपिका उस वॉट्सऐप ग्रुप की भी दोनों सदस्य रही हैं, जिसके चैट सामने आने के बाद दीपिका को आज एनसीबी के सामने हाजिर होना पड़ा है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

जगधात्री पूजा पंडाल को ‘नो एंट्री जोन’ बनाया गया

 चंदननगर के जगधात्री पूजा पंडाल में नहीं होगी आम जनता की एंट्री। जगद्धात्री (= जगत् + धात्री = जगत की रक्षिका) दुर्गा का एक रूप हैं। आगे पढ़ें »

शीत ऋतु में सावधानी है जरूरी

-    सर्दियों में जठराग्नि प्रबल रहती है, इसलिए इन दिनों में पौष्टिक तथा बलवर्द्धक आहार लेना चाहिए। सर्दियों में खट्टा, खारा, मीठा प्रधान आहार लेना आगे पढ़ें »

ऊपर