एक मर्द के करीब नहीं आ सकते, जब तक आप उसके साथ सेक्स नहीं करते’

मुबंई : इस बात में कोई दोराय नहीं कि प्यार-अफेक्शन और अंतरंगता या यूं कहें कि फिजिकल इंटीमेसी पति-पत्नी के रिश्ते को आगे बढ़ाने के लिए बहुत जरूरी है। जब आप किसी के साथ जुड़ते हैं, एक-दूसरे की परवाह करते हैं और एक-दूसरे संग पहले से अधिक सहज महसूस करते हैं, तो वहां अंतरंगता संबंधों को मजबूत बनाने का काम करती है। हालांकि, इसमें शारीरिक और भावनात्मक दोनों ही तरह की निकटता शामिल होती है। लेकिन कई बार महिलाएं अपने पार्टनर संग सेक्सुअली कनेक्टेड फील नहीं कर पाती हैं। ऐसा इसलिए क्योंकि ज्यादातर महिलाओं के लिए सेक्स रोमांटिक भावनाओं से गुजरना केवल मर्द के करीब आने का बहाना लगता है। ऐसे में जब उनसे उनका मन हटता है, तो वह दूरियां बनाने लगती हैं। बॉलीवुड एक्ट्रेस रेखा ने भी अपने एक ऐसे ही बयान से उस समय सनसनी मचा दी, जब उन्होंने प्यार वाले रिश्तों में इमोशनल अटैचमेंट न के बराबर बताया था
फिजिकल इंटिमेसी पर बड़े बोल
दरअसल, यासिर उस्मान की किताब ‘रेखा- कैसी पहेली जिंदगानी’ में एक्ट्रेस रेखा के जीवन से जुड़ी कई अनसुनी बातों को हाइलाइट किया है। इसी किताब के मुताबकि रेखा ने अपने एक इंटरव्यू में कहा था कि ‘आप एक मर्द के करीब… बेहद करीब तब तक नहीं आ सकते जब तक आप उसके साथ सेक्स नहीं करते।’ हालांकि, शादीशुदा रिश्ते की गाड़ी पटरी पर चलाए रखने के लिए शारीरिक कनेक्ट होना बेहद जरूरी है लेकिन जिन रिश्तों में इमोशनल कनेक्शन मिसिंग होता है, वहां फिजिकल इंटीमेसी सिर्फ मर्दों को रिझाने का पैंतरा बन जाती है। हालांकि, बदलते समय की बात करें तो आज कल के लड़के-लड़कियां न केवल खोए हुए रिश्तों में रंग भरने के लिए मेंटल एंड फिजिकल रूप से एक-दूसरे के करीब आ रहे हैं बल्कि उनके रिश्ते में सेक्सुअल सुख से ज्यादा भावनात्मक खुशी ज्यादा जुड़ी होती है, जिसकी वजह से वह एक-दूसरे संग ज्यादा जुड़ाव महसूस करते हैं।
इमोशनल फील से रिश्ता बनता है स्ट्रांग
शादी के शुरुआती सालों में तो कपल्स के बीच सब कुछ परफेक्ट रहता है। लेकिन जब दो-चार सालों में रिश्ते से फिजिकल इंटिमेसी खत्म होने लगती है, तो पति-पत्नी के बीच दूरियां आने लगती हैं, जोकि किसी भी रिश्ते को बर्बाद करने के लिए काफी है। एक स्टडी भी कहती है कि रोमांटिक संबंधों का मूल्यांकन करने में फिजिकल से ज्यादा भावनात्मक जुड़ाव होना बेहद महत्वपूर्ण है। ऐसा इसलिए क्योंकि रिश्ते में भावनात्मक कमी के कारण महिलाएं अपने साथी से अलग होने की अधिक संभावना रखती हैं जबकि पुरुष फिजिकल इंटीमेसी की कमी के कारण अपने साथी को धोखा देते हैं। रिलेशनशिप एक्सपर्ट्स के अनुसार, शारीरिक अंतरंगता में पार्टनर के साथ रहना और उसके साथ क्वालिटी टाइम बिताना है जबकि इमोशनल कनेक्शन में एक-दूसरे संग विचारों को साझा करना और भावना स्तर पर जुड़ना शामिल है, जो किसी भी रिश्ते का फ्यूचर तय करता है। जिन लोगों के बीच किसी तरह का कोई इमोशनल बांड नहीं होता है, उनका रिश्ता ताउम्र खुशियों के लिए संघर्ष करता है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्सहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

बड़ी खबरः उच्च माध्यमिक में सब पास

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : उच्च माध्यमिक की परीक्षा के नतीजों को लेकर राज्य में असंतोष जारी था। ऐसी परिस्थिति में असफल परीक्षार्थियों को पास कराने का आगे पढ़ें »

ऊपर