दिशा सालियान सुसाइड केस में दो साल बाद हुआ बड़ा खुलासा

मुंबईः  सुशांत सिहं राजपूत की एक्स मैनेजर दिशा सालियान की मौत के दा साल बाद उनकी सुसाइड को लेकर बड़ा खुलासा हुआ है। दिशा ने जून 2020 में मलाड स्थित फ्लैट की 12वीं मंजिल से कूदकर सुसाइड कर लिया था। इनके जाने के बाद तमाम तरह की बातें सामने आ रही थीं लेकिन पुलिस ने ये कहकर मामला बंद कर दिया था कि एक्ट्रेस की मौत किसी और वजह से नहीं बल्कि सुसाइड ही है। अब उनके मंगेतर रोहन राय ने बताया कि दिशा के जाने के बाद उनकी लाइफ में क्या-क्या उथल-पुथल मची।
दिशा सालियान के मंगेतर रोहन राय मॉडल और एक्टर हैं। वह एक्ट्रेस की डेथ के बाद लाइमलाइट में आए थे। केस की छानबीन के दौरान उन पर भी काफी उंगलियां उठाई गई थीं। इसके बाद रोहन ने सोशल मीडिया को बंद कर दिया था और लोगों की नजरों से भी ओझल हो गए थे। लेकिन अब दो साल बाद वह अपने जीवन की नई शुरुआत करने के लिए तैयार हैं।
दिशा सालियान की मौत के बाद कहां थे रोहन राय?
रोहन राय ने दिशा की अचानक मौत के बारे में बात की है। साथ ही बताया है कि उसके जाने के बाद कैसे उनकी दुनिया हिल गई थी। रोहन कहां थे इतने दिनों से, इस बारे में किसी को कोई जानकारी नहीं थी। जब ये बात उनसे पूछी गई तो वह बताते हैं- जब तक पुलिस की कार्रवाई चल रही थी मैं मुंबई में ही था। इसके बाद मैं दिशा के पेरेंट्स के साथ दिसंबर, 2020 में अपने पापा के होमटाउन गांधीधाम चला गया था। तीन महीने बाद मैं मुंबई वापस आ गया था। हम उसके निधन के शोर से दूर रहना चाहते थे। लोग बिना सोचे समझे दिशा के बारे में कुछ भी लिख रहे थे और कुछ भी टीवी पर दिखा रहे थे। उन्हें इस बात का जरा भी अंदाजा नहीं था कि इसका असर दिशा और मेरे परिवार पर क्या होगा। मेरे ऊपर इसका क्या प्रभाव पड़ेगा।

दिशा सालियान दादर से मलाड कैसे पहुंची?
दिशा सालियान की मौत के एक साल बाद मुंबई पुलिस ने इस केस को सुसाइड कहकर बंद कर दिया था। लेकिन उस रात क्या-क्या हुआ था, इस बारे में रोहन बताते हैं- दिशा बहुत ही सेंसिटिव इंसान थी। उस दौरान वह काम को लेकर तनाव में थी। उसकी दो डील्स भी फेल हो गई थी। उसे जानवरों से प्यार था। और मुझे याद है कि केरल में एक गर्भवती हथिनी की 27 मई को पटाखों से भरे अनन्नास खाने के बाद मौत हो जाने की खबर से उसकी हालत और खराब हो गई थी। उसे शांत कराना मुश्किल हो गया था। हम दोनों परिवार के साथ दादर में रह रहे थे। 4 जून को मैंने उससे कहा कि मलाड वाले अपार्टमेंट में चलते हैं। ये बात मैंने उससे ये सोचकर कही कि शायद इससे उसका मूड बदल जाएगा। जबकि हम वहां शादी के बाद शिफ्ट होने की प्लानिंग कर रहे थे। हमारे चार दोस्त भी उसे चीयर अप भी करने के लिए आए थे। दो-तीन दिन तो हम ड्रिंक करते रहें। दिशा ने अपनी ड्रिंक्स में कुछ मिला लिया क्योंकि उससे उसकी हालत और खराब हो जाती।
दिशा सालियान की सुसाइड से पहले क्या-क्या हुआ?
रोहन ने आगे बताया कि दिशा को आखिरी कॉल उसके स्कूल के दोस्त का लंदन से आया था। सबकुछ पांच मिनट में हुआ। मैंने दिशा से फोन लेकर उस दोस्त से बात की। दिशा उस समय मास्टर बेडरूम में चली गई। कुछ मिनट बाद मैंने दरवाजा खटखटाया लेकिन उसने कोई जवाब नहीं दिया। उस वक्त रूम बंद नहीं था। मैंने दरवाजा खोला तो देखा कि पूरे बिस्तर पर शराब फैली हुई थी। मुझे लगा कि वह अपने कपड़े बदल रही होगी। बाद में वापस आ जाएगी।
दिशा सालियान कमरे की खिड़की से कूद गईं
रोहन राय ने आगे बताया कि कुछ समय बाद जब दिशा वापस नहीं आई तो मैंने और एक दोस्त ने दरवाजा फिर से खटखटाया। लेकिन जवाब नहीं मिला। फिर मैं बाथरूम में गया। वहां भी वह नहीं थी। हमने उसे पूरे फ्लैट में देख लिया था लेकिन वो नहीं मिली। हम फिर से मास्टर बेडरूम में गए वहां हमने वॉर्डरोब वगैरह सब चेक किया। इस दौरान हम परेशान होने लगे। फिर मैंने नोटिस किया कि रूम की खिड़की खुली थी। मैंने वहां से नीचे देखा तो पाया कि उसका पायजामा ग्राउंड पर दिखाई दे रहा था। मैंने अपने दोस्त को फौरन बुलाया और पूछा- क्या है ये? फिर मैं इस बात को मानने के लिए तैयार नहीं हुआ। मैंने खुद को कई थप्पड़ भी मारे। वह किसी बुरे सपने जैसा था।
दिशा के बाद रोहन भी करना चाहते थे सुसाइड
फिर मैं यह सोचकर मुंडेर पर खड़ा हो गया कि मैं भी कूद जाऊंगा। मेरे दोस्तों ने मुझे पीछे खींच लिया। आनन-फानन में पुलिस भी पहुंच गई। उन्होंने मेरे शरीर पर किसी लड़ाई के निशान की जांच करने के लिए मेरे कपड़े उतारने को कहा और घर की तलाशी भी ली। हमारे कुछ दोस्तों ने दिशा को अस्पताल पहुंचाया। पहले दो अस्पतालों ने एंट्री देने से इनकार कर दिया लेकिन तीसरे अस्पताल ने उसे भर्ती कर लिया और बाद में मृत घोषित कर दिया।
7 साल से थे रिलेशन में
इस घटना को दो साल हो गए लेकिन क्या वह इस गम से उबर पाए हैं या नहीं, इस पर रोहन बताते हैं- मुझे लगातार एंग्जाइटी अटैक आने लगे थे। मैं और दिशा करीब 7 साल से साथ थे। हम उसके पेरेंट्स के घर दादर में रह रहे थे। साल 2018 में रोका भी हुआ था। उसके जाने के बाद मेरा सोना मुश्किल हो गया था। लेकिन जागना भी कठिन था क्योंकि सब कुछ एक बुरे सपने जैसा लग रहा था। लोगों ने मुझसे ये कहना शुरू कर दिया था कि मुझे कुछ दूसरे में करियर बनाना चाहिए। क्योंकि सोशल मीडिया पर काफी कुछ कहा जा रहा था। फिर एक दोस्त ने याद दिलाया कि एक्टर बनने का सपना सिर्फ मेरा नहीं था, दिशा भी उनको देखना चाहती थी। मेरे लिए ये यकीन कर पाना मुश्किल हो गया था कि अब वह नहीं रही। सालभर बाद भी मैं इस बारे में बात नहीं कर पा रहा था। लेकिन अब मुझे इस बात का एहसास हुआ कि इसे मुझे एक्सेप्ट करना होगा।

 

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

अंतिम संस्कार में शामिल होने जा रहे 2 व्यक्ति की सड़क हादसे में मौत

खड़गपुर: पश्चिम मिदनापुर जिला अंतर्गत सबंग थाना क्षेत्र के साउथपाड़ा इलाके में अंतिम संस्कार में शामिल होने जा रहे 2 व्यक्ति की सड़क हादसे में आगे पढ़ें »

नकली बैंक ड्राफ्ट मे फर्जी आधार कार्ड बनाने वाले गिरोह का किया भंडाफोड़

कोलकाता : नकली बैंक ड्राफ्ट की मामले की जांच के दौरान पुलिस ने एक फर्जी आधार व पैन कार्ड बनाने वाले गिरोह का भंडाफोड़ किया आगे पढ़ें »

ऊपर