काव्या के साथ होने वाला है कुछ बहुत बुरा, आने वाला है अनुपमा की जिंदगी में तूफान

कोलकाताः अनुपमा में आने वाला एपिसोड काफी दिलचस्प होने वाला है। जारी ट्रैक के अनुसार, वनराज समर और नंदिनी के रिश्ते को मानने से इंकार कर देता है। अनुपमा वनराज को काफी समझाने की कोशिश करती है, लेकिन वो उसकी एक नहीं सुनता। नंदिनी घर छोड़कर जाने का फैसला कर लेती है लेकिन अनुपमा उसे किसी तरह से जाने से रोक लेती है।
आने वाले एपिसोड में दिखाया जाएगा कि काव्या बहुत बड़ी चाल चलने वाली है। काव्या ने एक इमोशनल ड्रामा शुरू कर दिया है। काव्या वनराज को बताती है कि उसके साथ किसी ने बुरे तरीके से बदतमीजी की है और ये सुनकर वनराज और अनुपमा उसे अपने घर ले आते है। उसके घर आने से बा और बाबूजी काफी परेशान हो जाते है। बा कहती है काव्या के आने से पहले ही बहुत बड़ा हंगामा हुआ था। अब पता नहीं इस बार काव्या अपने साथ कौन सा तूफान लेकर आई है। काव्या किसी तरह से वनराज को अपना बनाना चाहती है। काव्या अब उसके घर में रहने लगेगी। आने वाला एपिसोड काफी दिलचस्प होने वाला है।
समर और नंदिनी का रिश्ता नहीं हो सकता क्योंकि
पिछले एपिसोड में आपने देखा कि वनराज कहते है कि समर और नंदिनी का रिश्ता नहीं हो सकता क्योंकि वो काव्या की नीस है। अनुपमा कहती है कि ये रिश्ता होगा क्योंकि वो एक बेहद समझदार और सुलझी लड़की है, लेकिन वनराज एक बार फिर से उसकी बात नहीं सुनता। समर अनुपमा को समझाता है कि उसने नंदिनी को सिर्फ प्रपोज किया था।
इधर नंदिनी काफी रोती रहती है और वो वहां से जाने का प्लान बना लेती है। पारितोष और किंजल में इस बात को लेकर खूब लड़ाई होती है। पारितोष को भी ये रिश्ता नहीं पसंद आता और किंजल उसे कहती है कि जब हमारा रिश्ता हो सकता है तो उन दोनों का क्यों नहीं। इसपर पारितोष कहता है कि मम्मी ने तुम्हारा दिमाग खराब कर दिया है।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

अब अनुब्रत मंडल आये आयकर के निशाने पर, अगले सप्ताह बुलाये गये

करोड़ों की बेनामी संपत्ति का आरोप कोलकाता : आयकर विभाग ने ​अगले सप्ताह तृणमूल नेता अणुव्रत मंडल को बेनामी संपत्तियों से संबंधित मामलों में नोटिस भेजी आगे पढ़ें »

vote

जंगीपुर व शमशेरगंज में मतदान तिथि बदली, अब 16 मई को मतदान

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : चुनाव आयोग ने जंगीपुर व शमशेरगंज में 13 मई को होने वाले मतदान की तिथि बदल दी है। अब यहां 16 मई आगे पढ़ें »

ऊपर