क्या पाखी की वजह से वनराज- अनुपमा का नहीं होगा तलाक?

कोलकाताः अनुपमा में हर दिन दर्शकों को कुछ न कुछ धमाकेदार देखने को मिल रहा है। पाखी के घर छोड़ने के बाद घरवाले काफी परेशान हो जाते है। वनराज और अनुपमा उसे बाहर खोजते है और उसे किडनैपर्स से बचा कर घर लाते है। काव्या दोनों को साथ में देखकर जल जाती है। आने वाले एपिसोड में दिखाया जाएगा कि वनराज को सारी बात याद आती है कि किस तरह उसने पाखी का ख्याल नहीं रखा और उसे सबके सामने डांटा। वो ये सब याद कर रोने लगता है। अनुपमा उसे संभालती है। वनराज कहता है वो उससे बहुत नफरत करता था, लेकिन अब वो खुद से नफरत करन लगा है क्योंकि वो एक अच्छा पिता नहीं बन पाया। इधर काव्या वनराज को फोनकर उसके आने का समय पूछती है। वनराज नाराज हो जाता है और कहता है कि पाखी जब ठीक हो जाएगी तब वो आयेगा। काव्या सोचती है कि अगर इमोशनल होकर ही सबकुछ कराया जा सकता है तो वो भी ऐसा करेगी। वो कहती है किसी भी कीमत पर वो वनराज को खुद से दूर नहीं जाने देगी।
साथ में बैठकर बातें करते हैं

अनुपमा और वनराज साथ में बैठकर बातें करते होते है और उन्हें ऐसे देख बा गुस्सा हो जाती है। बा कहती है ऐसे ही तुम लोग साथ में क्यों नहीं रह सकते। अब तुमलोगों को इस घर में ऐसी ही रहना होगा। ये सुनकर पाखी बहुत खुश हो जाती है। पिछले एपिसोड में आपने देखा कि पाखी कुछ लड़कों को देखकर दर जाती है और जंगल की तरफ जाने लगती है। पाखी खुद से कहती है प्लीज मम्मी पापा आपलोग आकर मुझे बचा लीजिए मैने घर छोड़कर बहुत बड़ी गलती की है, तभी पाखी को दो लोग पकड़ कर अपनी कार में बैठा लेते है। पाखी को कोई होश नही होता तभी अनुपमा को लगता है उस कार में पाखी है।

 

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

अब अनुब्रत मंडल आये आयकर के निशाने पर, अगले सप्ताह बुलाये गये

करोड़ों की बेनामी संपत्ति का आरोप कोलकाता : आयकर विभाग ने ​अगले सप्ताह तृणमूल नेता अणुव्रत मंडल को बेनामी संपत्तियों से संबंधित मामलों में नोटिस भेजी आगे पढ़ें »

vote

जंगीपुर व शमशेरगंज में मतदान तिथि बदली, अब 16 मई को मतदान

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : चुनाव आयोग ने जंगीपुर व शमशेरगंज में 13 मई को होने वाले मतदान की तिथि बदल दी है। अब यहां 16 मई आगे पढ़ें »

ऊपर