अनुपम खेर ने 28 साल की उम्र में निभाया था बूढ़े पिता का किरदार

नई दिल्ली : 25 मई को हिंदी सिनेमा में अनुपम खेर को 37 साल पूरे होने वाले हैं। इन 37 सालों में उन्होंने एक्टर, सपोर्टिंग रोल, निगेटिव, कॉमिक, ग्रे शेड्स से लेकर तमाम तरह के रोल अदा किये हैं। अनुपम खेर का काम सिर्फ भारत में ही नहीं विदेशों में भी बोलता है। यही खास बात है कि 10 सितंबर को अमेरिका में अनुपम खेर डे मनाया जाता है। उनकी पहली फिल्म ‘सारांश’ थी। इससे पहले वह कई प्ले और रंगमंच पर अभिनय कर चुके थे। उस समय 28 साल के अनुपम खेर ने इस फिल्म में बुजुर्ग पिता की भूमिका निभाई थी। फिल्म इंडस्ट्री में इतने साल गुजारना और आज भी स्टारडम बरकरार रखना कोई आसान बात नहीं है। लेकिन अनुपम खेर ने ये करिश्मा कर दिखाया। इंडस्ट्री में 37 साल पूरे होने पर अभिनेता भावुक हो गए। उन्होंने ट्वीट करते हुए पहली फिल्म का छोटा सा क्लिप साझा किया है और खास कैप्शन भी लिखा है।
अनुपम खेर ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ट्वीट करते हुए लिखा, ‘आज भी जब मैं मेरा नाम मेरी पहली फिल्म सारांश की शुरुआत में देखता हूं तो मैं भावुक हो जाता हूं। मुझे विश्वास नहीं हो रहा है कि कल 25 मई को मैं सिनेमा में 37 साल पूरे कर लूंगा। भगवान हमेशा मेरे प्रति दयालु रहा। एक दिन बाकि है मेरे फिल्मों में 37वें जन्मदिन में और भी कल आये।’फिल्म सारांश में अनुपम खेर ने एक ऐसे पिता का किरदार निभाया था, जिसके बेटे का निधन हो जाता है। फिल्म का निर्देशन महेश भट्ट ने किया था। बता दें, इस फिल्म में पहले अनुपम खेर को कास्ट किया गया था। लेकिन इसके बाद फिल्म में अनुभवी एक्टर संजीव कुमार को लेने का फैसला किया गया। इस बात से अनुपम खेर काफी नाराज हुए और उन्होंने महेश भट्ट को खरी खोटी सुना डाली। इसके बाद महेश भट्ट को अपनी गलती का एहसास हुआ और उन्होंने अनुपम खेर को ये रोल दिया।गंजेपन के चलते अनुपम खेर को 28 की उम्र में सारांश में बुजुर्ग का रोल करना पड़ा। उन्हें पहली ही फिल्म में 65 साल की उम्र के शख्स का रोल करना पड़ा। लेकिन अनुपम खेर ने इस बारे में ना सोचते हुए अपने किरदार को बखूबी निभाया और महेश भट्ट की इस फिल्म के बाद उन्होंने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा। अपने 37 साल के करियर में कई फिल्में, कई अवॉर्ड और कई भाषाओं में उन्होंने काम किया है l फिल्म सारांश के लिए अनुपम खेर को फिल्मफेयर से बेस्ट एक्टर का अवॉर्ड भी मिला था। आज भी अनुपम खेर को इस किरदार के लिए सराहा जाता है। इस फिल्म के बाद अनुपम खेर ने तमाम फिल्मों में काम किया। सिर्फ हिंदी ही नहीं उन्होंने विदेशी फिल्मों में भी अपने अभिनय से लोगों का दिल जीता।

शेयर करें

मुख्य समाचार

महिला को डायन करार देकर पीटने का आरोप

मिदनापुर: पश्चिम मिदनापुर जिले के जंगलमहल इलाके में एक बार फिर से एक महिला को डायन करार देते हुए उसे बुरी तरह से पीटे जाने आगे पढ़ें »

लोकल ट्रेन चलाने की मांग को लेकर यात्रियों ने घंटों किया अवरोध

सोनारपुर रेलवे स्टेशन पर लोगों ने रोका अप कैनिंग स्टाॅफ स्पेशल कोलकाता : राज्य भर में कोरोना का कहर जारी है। इस पर ही लगाम लगाने आगे पढ़ें »

ऊपर