अंगूरी भाभी से महज 1 साल ही बड़ी हैं उनकी ऑन स्क्रीन सास, कभी ऐसी दिखती थीं अम्मा जी!

नई दिल्ली : शुभांगी अत्रे और सोमा राठौड़ भाभीजी घर पर हैं शो में भले ही सास बहू का किरदार निभा रही हों लेकिन रीयल लाइफ में दोनों हम उम्र हैं। और दोनों की उम्र में महज 1 साल का अंतर है। भाबीजी घर पर हैं शो हर किसी का फेवरेट हैं और इस शो के किरदार भी क्योंकि ये किरदार काफी अजीबो-गरीब है। इन्हीं में एक किरदार है अम्मा जी का भी। जो मजेदार है और दर्शकों को खूब गुदगुदाता भी है। यही कारण कि इसे खूब पसंद भी किया जाता है।
शो में अम्मा जी बनीं सोमा राठौड़ अंगूरी भाभी की सास हैं और मनमोहन तिवारी की अम्मा। जो बात-बात पर तिवारी जी की पिटाई कर देती हैं तो वहीं बहू अंगूरी में बसती हैं उनकी जान। लेकिन क्या आप जानते हैं कि ऑन स्क्रीन सास-बहू की उम्र में महज एक साल का ही अंतर है। जी हां…सास बनीं सोमा राठौड़ और अंगूरी भाभी बनीं शुभांगी अत्रे की जोड़ी फैंस को खूब गुदगुदाती है। लेकिन भले ही शो में सास-बहू का रोल निभा रही हों लेकिन रीयल लाइफ में ये हम उम्र हैं। इनकी उम्र में महज 1 साल का ही अंतर है। सोमा राठौड़ एक साल बड़ी हैं और शुभांगी अत्रे छोटी। सोमा राठौड़ का जन्म 1980 में हुआ वो 42 साल की हैं वहीं शुभांगी अत्रे का जन्म 1981 में हुआ वो 41 साल की है। डिप्रेशन के कारण सोमा राठौड़ का वजन बढ़ता चला गया। ये उस वक्त की बात है जब उनका तलाक हुआ था। उस वक्त वो महज 32 साल की थीं। 23 साल की उम्र में ही सोमा राठौड़ ने घर बसा लिया था। लेकिन ये शादी ज्यादा समय तक नहीं टिकी और 10 साल के भीतर ही उनका ये रिश्ता खत्म हो गया।  इसी कारण वो डिप्रेशन में गईं और उनका वजन बढ़ने लगालेकिन 20 साल पहले सोमा राठौड़ कुछ ऐसी दिखा करती थीं। वो बेहद ही खूबसूरती तो थी हीं लेकिन काफी स्लिम ट्रिम भी हुआ करती थीं। भले ही आज सोमा राठौड़ काफी बदल चुकी हैं लेकिन अपनी एक्टिंग और कॉमिक टाइमिंग से उन्होंने हर किसी को अपना दीवाना बना दिया है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

जून के पहले सप्ताह में आ सकते हैं माध्यमिक और ज्वाइंट के नतीजे

एचएस के नतीजे जून के दूसरे सप्ताह तक आने की संभावना सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : सब ठीकठाक रहने पर आगामी जून महीने के पहले सप्ताह में माध्यमिक आगे पढ़ें »

ऊपर