…सेट पर अचानक फूट-फूटकर रोने लगी नुशरत, जानिये वजह

मुंबईः नुशरत भरुचा की हॉरर फिल्म छोरी अमेजन प्राइम में रिलीज हो गई है। फिल्म में नुशरत एक प्रेग्नेंट महिला का रोल निभा रही हैं। छोरी मराठी फिल्म लपाछापी का रीमेक हैं। फिल्म को विशाल फुरिया डायरेक्ट कर रहे हैं। फिल्म के डायरेक्टर विशाल फुरिया ने बताया कि, ‘फिल्म की शूटिंग पिछले साल लॉकडाउन के बाद हुई थी। शुरुआत में काफी दिक्कत हुई। कोरोना के कारण फिल्म को बायो बबल में शूट किया गया था।जब थिएटर खुल नहीं रहे थे तो हमारे प्रोड्यूसर विक्रम मल्होत्रा ने कहा कि क्यों न हम फिल्म को डायरेक्ट ओटीटी में ही रिलीज करें। अमेजन प्राइम में रिलीज होने के कारण फिल्म को ग्लोबल ऑडियंस मिल रहा है। मुझे कोई खेद नहीं है। रीमेक बनाते वक्त मैं चाहता था कि फिल्म ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुंचे तो वह मकसद पूरा हो रहा है।’

विशाल फुरिया कहते हैं, ‘तीन-चार साल पहले किसी दूसरे प्रोजेक्ट को लेकर मेरी और नुशरत की मीटिंग हुई थी। उस दौरान हम दोनों के बीच काफी बातचीत हुई थी। जो उन्हें रोल मिल रहे थे उससे वह कुछ हटकर करना चाहती थीं। मैं भी कुछ नया करना चाहता था। इसके बाद फिल्म के प्रोड्यूसर विक्रम मल्होत्रा के साथ हमारी मीटिंग हुई और वह भी नुशरत के नाम पर सहमत हो गए थे। प्रोड्यूसर ने कहा कि नुशरत बहुत मजबूत लड़की है। उनमें भूख और काबिलियत है कुछ अलग करने की।’

नुशरत ने छोरी की स्क्रिप्ट पूरी सुनने से इंकार कर दिया। बकौल डायरेक्टर, ‘हम नुशरत से मिले तो उन्होंने कहा कि मुझे स्क्रिप्ट नहीं सुननी है। मैंने कहा कुछ हिस्से सुन लें ताकि किरदार की समझ आ जाए। उन्हें कुछ हिस्से सुनाया उस हिसाब से अपना किरदार बनाया। इसके अलावा उन्होंने हॉरर सीन नहीं सुने क्योंकि वह चाहती थीं कि उनके रिएक्शन नेचुरल हो।’  विशाल आगे कहते हैं, ‘फिल्म बहुत ज्यादा इमोशनल है और काफी चैलेंजिंग है। लीड एक्ट्रेस के साथ फिल्म में बहुत कुछ होता है। जो इमोशनली और फिजिकली भी बेहद चैलेंजिंग है। दो बार फिल्म के सेट पर ऐसा हुआ कि वह टूट गईं और फूट-फूटकर रोने लगीं।’ डायरेक्टर आखिर में कहते हैं, ‘ वह इतनी बार एक ही इमोशन को एक्सपीरियंस कर रही थीं। कहीं न कहीं वह टूट गईं। हमने उन्हें संभाला, उन्हें रोने दिया और आराम करने दिया। अगले दिन वह उसी जोश के साथ दोबारा सेट पर आईं।’

 

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

बस कुछ घंटे, बंद घर और उड़ा ले गये लाखों की संपत्ति

नदियाः हरिनघाटा थाना के मोहनपुर फाड़ी अंतर्गत विरोही हालदारपाड़ा के निवासी तपन आचार्य अपने परिवार के साथ गुरुवार दोपहर निमंत्रण पर गये थे। शाम को आगे पढ़ें »

ऊपर