हर डैड अक्षय कुमार के इन टिप्‍स को कर सकते हैं फॉलो

मुंबईः अक्षय कुमार बॉलीवुड के सबसे फिट और अनुशासन में रहने वाले कलाकारों में से एक हैं। अक्षय पार्टियों में कम और जॉगिंग और एक्‍सरसाइज करते हुए ज्‍यादा देखे जाते हैं। सबसे खास बात यह है कि अक्षय अपने दोनों बच्‍चों में भी ऐसे ही गुण देखना चाहते हैं। अपने बिजी शेड्यूल के बाद भी अक्षय अपने बच्‍चों के लिए जो करते हैं, वो शायद एक आम पिता के लिए करना बहुत मुश्किल है। इसलिए अगर आप भी बिजी होने का बहाना बनाकर अपने बच्‍चे के साथ समय नहीं बिताते हैं तो अक्षय कुमार आपको पेरेंटिंग की कुछ अच्‍छी बातें सिखा सकते हैं।
​मॉनसून में वॉक
अक्षय अपने बच्‍चों के साथ मॉनसून या बारिश के बाद वॉक पर जाते हैं। अक्षय को बारिश की वजह से पर्यावरण में आए बदलाव और सुंदरता को निहारना अच्‍छा लगता है और वो ये सब अपने बच्‍चों के साथ करते हैं। इसके जरिए अक्षय अपने बच्‍चों को यह बताने की कोशिश करते हैं कि हमारी जिंदगी में पर्यावरण कितना महत्‍व रखता है।​
किताबें पढ़ना
अक्षय की बेटी नितारा अभी बहुत छोटी है लेकिन इतनी कम उम्र में भी उसे हर तरह की किताब पढ़ने का शौक है। नितारा रामायण से लेकर परियों की कहानियों वाली किताबें भी पढ़ती है। अक्षय भी अपनी बेटी के साथ बुक रीडिंग का शौक रखते हैं और कोशिश करते हैं कि वो रीडिंग से कुछ नए शब्‍द सीखे। अक्षय नितारा को नई-नई कहानियां सुनाते हैं और रीडिंग से होने वाले फायदों के बारे में भी बताते हैं।​
कद्र करना है सिखाया
अक्षय कहते हैं कि उनके बच्‍चे भी वैसे ही जैसा कि बच्‍चों को होना चाहिए। वो अपनी बेटी को क्रिएटिव बनने के लिए पूरी आजादी देते हैं और इस चक्‍कर में वो कभी-कभी उनके पैर के नाखून काे ही रंग डालती है।अक्षय चाहते हैं कि उनके बच्‍चे उस चीज की कद्र करें जो उन्‍हें मिला है। उनके पेरेंट्स ने उन्‍हें अच्‍छे संस्‍कार दिए हैं और वो भी अपने बच्‍चों को उसी तरह की परवरिश देना चाहते हैं।
दिनभर की करते हैं बातें
जब ट्विंकल खन्‍ना किसी काम से शहर से बाहर होती हैं, तो उस समय अक्षय कुमार अकेले ही दोनों बच्‍चों को संभालते हैं। अक्षय शाम को घर जल्‍दी आते हैं और अपने बच्‍चों के साथ समय बिताते हैं। उनसे पूछते हैं कि उन्‍होंने पूरा दिन क्‍या किया। इस तरह अक्षय अपने बच्‍चों के दिनभर के शेड्यूल के बारे में जानते हैं और कहीं ना कहीं उन्‍हें यह भी समझा देते हैं कि कभी-कभी मां को भी काम से बाहर जाना पड़ सकता है और ऐसे में पिता बच्‍चों के लिए हर समय मौजूद हैं।
​छुट्टियों पर भी मिलता है पाठ
अक्षय और उनकी पत्‍नी ट्विंकल दोनों ही चाहते हैं कि उनके बच्‍चे पैसों की अहमियत को समझें और फिजूलखर्च ना करें। इसके लिए अक्षय वेकेशन पर जाने के लिए इकोनॉमी क्‍लास में सफर करते हैं।बेटे आरव के मार्शल आर्ट्स में ब्‍लैक बेल्‍ट जीतने पर अक्षय ने उसे बिजनेस क्‍लास में ट्रैवल करने का मौका दिया था। इससे अक्षय अपने बेटे को यह समझाना चाहते थे कि हमें हमारा जिंदगीमें सब कुछ मेहनत से कमाना पड़ता है।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

‘भवानीपुर के बजाय आपकी स्कूटी नंदीग्राम में लैंड हो गयी’

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : पिछले सप्ताह मुख्यमंत्री ममता बनर्जी द्वारा पेट्रोल व डीजल के दाम में वृद्धि का प्रतिवाद करने के लिए की गयी स्कूटी की आगे पढ़ें »

हेरोइन तस्कर के साथी से 60.97 लाख रुपये जब्त

सन्मार्ग संवादादाता कोलकाता : हेरोइन तस्करी के आरोप में गिरफ्तार अ‌भ‌ियुक्त की निशानदेही पर कोलकाता पुलिस के एसटीएफ अधिकारियों ने 60.97 लाख रुपये जब्त किया है। आगे पढ़ें »

ऊपर