स्वरा-तापसी पर भड़कीं रंगोली, बताया बी-ग्रेड एक्ट्रेस

मुंबई : कंगना रनौत और उनकी बहन रंगोली चंदेल का बॉलीवुड के ज्यादातर लोगों से पंगा लगा रहता है। दोनों अक्सर सोशल मीडिया पर एक्टिव रहते हैं और इसी माध्यम से बॉलीवुड के खिलाफ अपनी आवाज भी उठाते हैं। पिछले दिनों सुशांत की मौत के बाद कंगना मुखर हुई। रंगोली ने भी उनका पूरा साथ दिया। जिसके बाद बॉलीवुड की कई एक्ट्रेस कंगना का विरोध करने लगी। यहां तक कि सोशल मीडिया पर रिएक्ट वॉर शुरू हो गया। इस वॉर में स्वरा भास्कर और तापसी पन्नू का नाम भी शामिल है।

अब कंगना की बहन रंगोली ने स्वरा भास्कर और तापसी पन्नू पर जमकर निशाना साधा है। रंगोली ने दोनों को बी-ग्रेड एक्ट्रेस बताया है। उन्होंने यह रिएक्शन बॉम्बे हाईकोर्ट के उस फैसले के बाद दिया है, जिसमें कंगना के ऑफिस पर बीएमसी की कार्रवाई को गलत बताया गया है। रंगोली की मानें तो जब बीएमसी ने कंगना का ऑफिस तोड़ा था, तब स्वरा और तापसी उन पर हंस रही थीं।

‘बी-ग्रेड एक्ट्रेस को देखकर बहुत दुख हुआ’

रंगोली ने अपनी इंस्टाग्राम पोस्ट में लिखा है, “एक चीज, जो मैं नजरअंदाज नहीं कर सकती और कहना चाहती हूं। वह यह कि जब हम फैमिली के रूप में सबसे मुश्किल दौर से गुजर रहे थे, तब स्वरा और तापसी जैसी बी-ग्रेड एक्ट्रेस को देखकर बहुत दुख हुआ था, जो कंगना के ऑफिस को ध्वस्त किए जाने पर उनका मजाक उड़ा रही थीं। उन्होंने इसे कानूनन कार्रवाई बताया था।

कंगना ने नहीं करने दी कानूनी कार्रवाई

रंगोली ने आगे लिखा है, “मैं उन्हें (स्वरा और तापसी) कोर्ट में घसीट सकती थी। लेकिन कंगना उनके खिलाफ कोई एक्शन नहीं चाहती थी। प्लीज इन कुंठित, ईर्ष्यालू और बी-ग्रेड एक्ट्रेस को देखिए। ये कंगना के बारे में जो भी कह रही हैं, उस पर विश्वास न करें।”

‘इन बेशर्मों के बारे में जानकारी देती रहूंगी’

रंगोली ने अपनी पोस्ट के कैप्शन में लिखा है, “एक महत्वपूर्ण सूचना। कुछ लोगों ने हमारी पाली हिल स्थित प्रॉपर्टी के अवैध विध्वंस के दौरान गलत जानकारी फैलाने की कोशिश की थी। प्लीज ऐसे असामाजिक तत्वों से सावधान रहें। मैं आपको इन बेशर्मों के बारे में जानकारी देती रहूंगी।”

शेयर करें

मुख्य समाचार

रविवार को व्रत करने से होते हैं ये 5 फायदे, जानिए इसकी विधि

कोलकाता : रविवार को भगवान विष्णु और सूर्य देव का दिन होता है। इस दिन आराधना की जानी चाहिए। हिंदू धर्म में इसे सबसे श्रेष्ठ आगे पढ़ें »

‘जय श्री राम’ का नारा कहीं जानबूझ कर तो नहीं लगाया गया !

आगामी विस चुनाव पर पड़ सकता है खासा असर भाजपा के लिए बना चुनावी हथकंडा कोलकाता : ऐसा पहली बार नहीं है। पहले भी जय श्रीराम सुनकर आगे पढ़ें »

ऊपर