ये सफल अभिनेता पहले करते थे कामचलाऊ नौकरियां

मुंबईः मेहनत को सफलता की कुंजी कहा जाता है। इस बात पर बिल्कुल खरे उतरते हैं बॉलीवुड अभिनेता वीर दास। वीर ने खुद को इंडस्ट्री में कॉमेडी कलाकार के रूप में स्थापित कर लिया है। वे अधिकतर फिल्मों में कॉमिक रोल करते हुए नजर आए हैं। वीर का जन्म 31 मई को देहरादून में हुआ था। आज उनके जन्मदिन के मौके पर जानते हैं उनके संघर्ष से उत्कर्ष की दास्तान।

पार्ट टाइम जॉब से गुजारा

वीर का ज्यादातर वक्त दक्षिण अफ्रीका में गुजरा। उन्होंने नाइजीरिया, दिल्ली और शिमला जैसे शहर में रहकर पढ़ाई की। वीर का फिल्मी करियर इतना आसान नहीं था। फिल्म इंडस्ट्री में उनका कोई गॉडफादर भी नहीं था जो उनको अभिनय के क्षेत्र का गुर सिखा सके। एक ऐसा भी वक्त था जब वीर अमेरिका में एक साथ तीन-तीन पार्ट टाइम जॉब करते थे। उन्होंने बताया कि अमेरिका के शिकागो में एक कैफे में वो डोरमैन के नौकरी किया करते थे। फिल्मों कि बात करें तो काफी संघर्ष के बाद वीर को इंडस्ट्री में कदम रखने का मौका मिला। वीर ने नमस्ते लंदन, मुंबई सालसा, गो गोवा गोन, लव आजकल, शादी के साइड इफेक्ट्स, रिवॉल्वर रानी जैसी फिल्मों में सराहनीय काम किया है।

फिल्मफेयर अवॉर्ड से नवाजे गए

भले ही शुरुआत छोटी हुई हो लेकिन आज वो जिस मुकाम पर हैं वो बेहद प्रेरणादायी और सराहनीय है। वीर ने बीते कुछ सालों में कई फिल्मों में काम किया। देल्ही बेली फिल्म में काम करने लिए बेस्ट सपोर्टिंग एक्टर का फिल्मफेयर अवॉर्ड मिला था। वीर ने अपने करियर की शुरूआत अमेरिकी कॉमेडी शो ‘ब्राउन मैन कांट हंप’ से की थी जो ‘नौक हरबाच थिएटर’ में शुरू हुआ था। इसके बाद वे भारत लौट आए। इस दौरान उन्होंने कई शो को होस्ट किया। द ग्रेट इंडियन कॉमेडी शो के लिए भी काम किया। इसके बाद उन्हें नमस्ते लंदन में एक छोटा सा रोल मिला। बाद में उन्हें मुंबई सालसा में मुख्य किरदार निभाने का अवसर प्राप्त हुआ। चर्चा है कि वे अब सलमान खान की किक 2 और फिर डॉन 3 में नजर आएंगे। इन दिनों वीर नेटफ्लिक्स के अब्रौड अंडरस्टैंडिंग शो को लेकर चर्चा में हैं।

हाल ही में एक साक्षातकार के दौरान वीर ने इंडस्ट्री में होने वाले रंगभेद को लेकर कहा था कि विविधता महत्वपूर्ण है लेकिन कलाकारों का चुनाव उनकी प्रतिभा के आधार पर होना चाहिए न कि उनकी त्वचा के रंग को देखकर। उन्होंने बताया, ”मैं रंग वाले अभिनेता वाली परिभाषा से इत्तेफाक नहीं रखता। मैं एक कलाकार हूं और अपनी भूमिकाएं निभाता हूं।”

शेयर करें

मुख्य समाचार

राज्य के जिलों में पूर्व रेलवे की चलीं 81 लोकल ट्रेनें

कोलकाता : कोविड नियमों को मानते हुए बुधवार को राज्य के ​विभिन्न जिलों में पूर्व रेलवे की 81 नाॅन सबर्बन यानी लोकल ट्रेनें चलायी गयीं। आगे पढ़ें »

‘10 वर्षों में परिसेवाएं क्यों नहीं पहुंचायी गयी’

कोलकाता : बुधवार को प्रदेश भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष ने हेस्टिंग्स स्थित भाजपा कार्यालय में संवाददाताओं को संबोधित करते हुए राज्य सरकार पर हमला बोला। आगे पढ़ें »

ऊपर