बहन के साथ पुलिस स्टेशन पहुंचीं कंगना रनौत, राजद्रोह से जुड़ा है मामला

मुंबई : कंगना रनौत और उनकी बहन रंगोली राजद्रोह के एक मामले में अपना बयान दर्ज कराने के लिए बांद्रा पुलिस स्टेशन पहुंचीं हैं। कंगना और उनकी बहन को मुंबई पुलिस ने कई बार समन भेजा था, जिसके बाद बांद्रा कोर्ट के आदेश के बाद अब आखिरकार कंगना पुलिस स्टेशन पहुंचीं हैं। इस दौरान कंगना के वकील रिजवान सिद्दीकी भी पहुंचे हैं। पुलिस स्टेशन आने से पहले कंगना ने वीडियो संदेश दिया है कि उनकी आवाज दबाई जा रही है। हाई कोर्ट के आदेश के मुताबिक कंगना और उनकी बहन रंगोली को बांद्रा पुलिस स्टेशन में आकर बयान दर्ज कराना था।

गौरतलब है क‌ि, मुंबई पुलिस ने 17 अक्टूबर 2020 को कथित तौर पर दो समुदायों के बीच विवाद बढ़ाने और अन्य आरोपों के लिए स्थानीय अदालत के आदेश पर कंगना और रंगोली के खिलाफ एफआईआर दर्ज की थी। कंगना पर धार्मिक भावनाएं भड़काने, कलाकारों को हिंदू-मुसलमान में बांटने और सामाजिक द्वेष को बढ़ावा देने का आरोप लगाया गया। कंगना और उनकी बहन पर आईपीसी के सेक्शन 153ए (दो समुदायों के बीच धर्म के आधार पर नफरत पैदा करने की कोशिश), 295ए (सांप्रदायिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने की कोशिश) और 124ए (राजद्रोह) के तहत मामला दर्ज हुआ है>

दिलजीत के साथ भी हुई थी बहस

बता दें कंगना रनौत और दिलजीत दोसांझ के बीच अभी कुछ दिनों पहले किसान आंदोलन को लेकर ट्विटर पर जमकर बहस हुई थी। जिसके बाद कंगना चर्चा में आ गईं थीं। दरअसल, कंगना ने अपने एक ट्वीट में दावा किया था कि शाहीन बाग वाली बिलकिस बानो किसानों के प्रदर्शन में शामिल हुई थीं। इसके अलावा उन्होंने लिखा था कि वह 100 रुपये के लिए कहीं भी आ जा सकती हैं। कंगना के इस ट्वीट पर काफी बवाल मचा और फिर दिलजीत ने इसे लेकर उन्हें खरी-खोटी सुना दी।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

राज्यभर में आतंक और हिंसा फैला रही है भाजपा : अरूप

भाजपा के खिलाफ तृणमूल ने निकाली विशाल रैली सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : भाजपा राज्यभर में आतंक और हिंसा का माहौल बना रही है। लोगों को भ्रमित कर आगे पढ़ें »

कोरोना संक्रमण से एक और डॉक्टर की मौत

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाताः कोरोना वायरस के संक्रमण के मामले काफी कम होते जा रहे हैं। राज्य में वैक्सीनेशन प्रक्रिया भी चल रही है। हालांकि इसके बाद आगे पढ़ें »

ऊपर