फिल्म ‘गुमनामी’ का ट्रेलर हुआ रिलीज, नेताजी सुभाष के लापता होने पर बनी कहानी

netaji

नई दिल्ली : श्रीजित मुखर्जी की फिल्म ‘गुमनामी’ का ट्रेलर रिलीज हो गया है। फिल्म नेताजी सुभाष चंद्र बोस के लापता होने से जुड़ी कहानी है, जिसके मुख्य किरदार को प्रोसेनजीत चटर्जी ने निभाया है। फिल्‍म के निर्देशक श्रीजित मुखर्जी है। बताया जा रहा है कि फिल्म 2 अक्टूबर को रिलीज होने वाली है। फिल्म के ट्रेलर की शुरूआत 18 अगस्त 1945 के दिन से की गई है। इस 2 मिनट के ट्रेलर में नेताजी की मौत से जुड़ी 3 कहानियों की झलक दिखाई गई है।

ऐसे होती है फिल्म की शुरूआत

बताया जा रहा कि फिल्म के ट्रेलर की शुरूआत 18 अगस्त साल 1945 के समय काल के साथ होती है। जिसमें पहले प्लेन क्रैश का सीन दिखाया गया। उसके बाद कुछ प्रश्न दिखाए जाते हैं और फिर कमीशन की कार्रवाई से लेकर उस पर हुई राजनीति को भी दिखाया गया है। इतना ही नहीं इस फिल्म में गुमनामी बाबा और नेताजी को प्लेन से कूदते हुए भी दिखाया गया है।

नेताजी का अपमान करने का हमारा कोई इरादा नहीं : श्रीजित

बता दें कि पिछले महीने नेताजी के परिवार ने यह दावा किया था कि नेताजी की छवि को खराब करने के लिए एक अपमानजनक अभियान चलाया जा रहा है। जिस पर श्रीजित ने सफाई देते हुए कहा था कि उन्होंने केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड द्वारा मंजूरी लेने के बाद ही इस फिल्म का निर्माण किया है। उन्होंने यह भी कहा कि नेताजी का अपमान करने का हमारा कोई इरादा नहीं है। हमने फिल्म में उनके प्रति अपना सम्मान जाहिर किया है। हमने फिल्म को 3 नजरिए से बनाने की कोशिश की है और नतीजे दर्शकों पर छोड़ दिया है। सच रिलीज होने के बाद साबित हो जाएगा।

बोस परिवार के 33 सदस्यों ने दिया लिखित बयान

वहीं दूसरी ओर बोस परिवार के 33 सदस्यों ने लिखित बयान में कहा है कि “गुमनामी बाबा के नाम से लंबे समय से एक ऐसा अभियान चलाया जा रहा है जिससे नेताजी की छवि को खराब की जा सके। ऐसा ‌इसलिए कि वह गरीब बाबा नेताजी से जुड़ी हुई चीजों से भरा एक ट्रंकलोड छोड़ गया था।” बोस परिवार द्वारा साइन किए हुए लिखित बयान में नेताजी की बेटी अनीता, भतीजी चित्रा घोष, भतीजा द्वारकानाथ बोस, भतीजी कृष्णा बोस के अलावा उनके पड़पोते और बीजेपी नेता चंद्रा बोस भी शामिल रहे।

नेताजी और गुमनामी बाबा के बीच कोई संबंध नहीं : परिजन

बता दें कि परिजनों ने 2005 के जस्टिस मुखर्जी जांच का आयोग की निर्णायक प्रमाण का हवाला देते हुए बताया गया था कि डीएनए परीक्षण से यह साफ हो चुका है कि नेताजी और गुमनामी बाबा के बीच कोई संबंध नहीं है। इन्होंने अपने पत्र में इस फिल्म के जरिए चला रहे अभियान को रोकने की मांग भी की है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

बेकाबू होता जा रहा है डेंगू, और 2 की मौत

अब तक 19 मरे, साढ़े 11 हजार लोग पीड़ित सन्मार्ग संवादाता कोलकाता : डेंगू का कहर दिन ब दिन बेकाबू होता जा रहा है। रविवार को डेंगू आगे पढ़ें »

mamata banerjee

आज केन्द्र सरकार के प्रतिष्ठानों के कर्मियों को सम्बोधित करेंगी ममता

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : मुख्यमंत्री ममता बनर्जी आज सोमवार को नेताजी इंडोर स्टेडियम में केंद्र सरकार के प्रतिष्ठानों के कर्मचारियों के प्रतिनिधियों को सम्बोधित करेंगी। इन आगे पढ़ें »

ऊपर