नीतीश भारद्वाज एक बार फिर कृष्ण के किरदार में

जी थियेटर कोलकाता में पौराणिक नाटक ‘चक्रव्यूह’ का मंचन करने वाला है। ध्यान देने वाली बात यह है कि अतुल सत्य कौशिक द्वारा डायरेक्ट ‘चक्रव्यूह’ में नीतीश भारद्वाज कृष्ण का किरदार निभाते हुए नजर आएंगे। जिसका मंचन कोलकाता में 25 फरवरी, शनिवार को जी डी बिरला सभागार में किया जाएगा। नीतीश भारद्वाज कृष्ण के किरदार में इतने ज्यादा प्रसिद्ध हैं कि आज भी लोगों के दिल में उनका चेहरा कृष्ण को प्रतिबिंबित करता है। सन्मार्ग की संवाददाता से हुई खास बातचीत में नीतीश भारद्वाज ने अपने किरदार के नये पहलुओं की चर्चा की। पेश हैं उनसे हुई बातचीत के मुख्य अंश…
‘चक्रव्यूह’ में आपका किरदार क्या है ?
मुझे यह कहने में काफी खुशी हो रही है कि मैं ‘चक्रव्यूह’ में कृष्ण की भूमिका निभा रहा हूं।
इस नाटक में दर्शकों को क्या नया देखने को मिलेगा ?
महाभारत एक ऐसा महाकाव्य है जो मनुष्य जीवन से किसी न किसी रूप में जुड़ा हुआ है। आज के युग में भी यह प्रांसगिक है। इस नाटक में मूल रूप से अभिमन्यु वध को केंद्रित किया गया है। महाभारत के कुछ ऐसे पहलू थे, जिनका जिक्र पहले नहीं किया गया। इस नाटक के माध्यम से हम इन्हीं पहलुओं को दिखाने की कोशिश कर रहे हैं।
*कृष्ण के किरदार में आज भी आप लोगों के मन में बसे हैं। इसके लिए आप क्या कहेंगे ?
(हंसते हुए) मां भगवती की कृपा है और वरिष्ठों का आशीर्वाद, जिसकी वजह से मैं यहां तक पहुंच पाया हूं।
इसके अलावा आप क्या कर रहे हैं ?
मैंने 2016 में मोहनजोदाड़ो फिल्म में काम किया था। फिलहाल मैने हिंदी फिल्म को डायरेक्ट करने वाला हूं जिसकी तैयारियां लगभग पूरी हो चुकी हैं।
कोलकाता के कला प्रेमियों के बारे में आप क्या कहेंगे ?
कोलकाता साहित्य की दृष्टि से एक समृद्ध प्रदेश है। कला की कद्र करना कोलकातावासियों को बखूबी आता है।
वर्तमान समय में लोग मल्टीप्लेक्स को छोड़कर थियेटरों में नाटक देखना पसंद करेंगे ?
जरूर, भारत के इतिहास पर नजर डालें तो यह प्रत्यक्ष है कि यहां शुरू से ही नाटकों का मंचन हुआ है। बंगाल में तो विशेषकर नाटकों का मंचन किया गया है और बात यदि आज की पीढ़ी की है तो कोई भी बच्चा अपने संस्कारों से पृथक नहीं है।
आप इस क्षेत्र में कम उम्र से हैं। इसका श्रेय आप किसे देंगे ?
मेरी माताजी ने मुझे प्रेरित किया। मैं 24 वर्ष का था जब मुझे कृष्ण का किरदार निभाने के लिए प्रस्तावित किया गया था। मुझे लगता था कि मैं इस किरदार को निभाने के सक्षम नहीं हूं, पर मेरी माताजी ने मुझे इस किरदार को निभाने के लिए प्रेरित किया।

मुख्य समाचार

भाटपाड़ा में बमबारी जारी, 1 मरा

सर्च अभियान चलाकर पुलिस ने किये 6 बम बरामद भाटपाड़ा : भाटपाड़ा थानांतर्गत 10 नं. गली के रामनगर कॉलोनी में बम विस्फोट होने से एक व्यक्ति आगे पढ़ें »

नए कोच के चयन में नहीं चलेगी विराट की मनमानी

नयी दिल्ली : टीम इंडिया का नया मुख्‍य कोच कौन होगा इस पर फैसला कुछ समय बाद लिया जाएगा। पर बीसीसीआई के एक अधिकारी ने आगे पढ़ें »

कृषि क्षेत्र में विकास के लिए केंद्र और राज्यों को मिलकर करना होगा काम

नई दिल्ली: केंद्र सरकार को कृषि क्षेत्र में सुधार के साथ राज्यों को वित्त आयोग द्वारा किए गए अनुदान और आवंटन को जोड़ना चाहिए। यह आगे पढ़ें »

2018-19 में डिजिटल ट्रांजेक्शन 51 फीसदी बढ़ी, कुल डिजिटल ट्रांजेक्शन 3,133.58 करोड़ के पार पहुंचा

नई दिल्ली : देश में डिजिटल ट्रांजेक्शन तेजी से बढ़ रहा है। वर्ष 2018-19 में डिजिटल ट्रांजेक्शन पिछले साल की तुलना में 51 फीसदी बढ़ी आगे पढ़ें »

निजी क्षेत्र और उपक्रमों को बढ़ावा देकर आर्थिक वृद्धि की रफ्तार तेज करना चाहती है सरकार

नई दिल्ली : केंद्र सरकार निजी क्षेत्र और निजी उपक्रमों को बढ़ावा देकर आर्थिक वृद्धि की रफ्तार बढ़ाने पर जोर दे रही है। इस बारे आगे पढ़ें »

सिंधू का दमदार प्रदर्शन, इंडोनेशिया ओपन के क्वार्टर फाइनल में पहुंची

जकार्ता : भारत की चोटी की शटलर पीवी सिंधू ने डेनमार्क की मिया बिलिचफेल्ट के खिलाफ तीन गेम तक चले संघर्षपूर्ण मैच में जीत दर्ज आगे पढ़ें »

fire in an animation studio in japan, 24 dead

एनिमेशन स्टूडियो में लगायी आग, 24 जिंदा जले

टोक्यो : जापान के क्योटो शहर में गुरुवार सुबह एक एनिमेशन स्टूडियो में आग लगने से 24 लोग जिंदा जल गए जबकि 35 से अधिक आगे पढ़ें »

ऐसे उठा सकते हैं एनपीएस में छुट का लाभ

नई दिल्ली : नेशनल पेंशन योजना (एनपीएस) ने ईपीएफओ से कहीं ज्यादा रिटर्न दिया है। एक रिपोर्ट के मुताबिक बीते 10 साल में केंद्रीय और आगे पढ़ें »

teachers enclosing legislative assembly lathi charged by the police

विधानसभा का घेराव करने पहुंचे शिक्षकों पर पुलिस ने किया लाठीजार्च

पटना : वेतनमान समेत सात सूत्रीय मांगों को लेकर गुरुवार को राजधानी पटना में विधानसभा का घेराव करने पहुंचे नियोजित शिक्षकों पर पुलिस ने जमकर आगे पढ़ें »

Government told - cases of rape are increasing in trains

सरकार ने बताया – ट्रेनों मे लगातार बढ़ रहे है दुष्कर्म के मामले

नई दिल्ली : देश की सड़कों-गलियों में तो बहू-बेटियां सुरक्षित थी ही नहीं, अब यात्रा के लिए सबसे सुरक्षित मानी जाने वाली ट्रेनों में भी आगे पढ़ें »

ऊपर