नये निर्देशकों के साथ काम करने की है इच्छा : अनिल कपूर

मुंबई : हिंदी फिल्म जगत में अपने 35 बरस पूरे करने पर अभिनेता अनिल कपूर का कहना है कि इतना लंबा सफर उन्होंने अनुशासित दिनचर्या और हर दिन के साथ खुद को निखारने के दृढ़निश्चय के दम पर ही पूरा किया है।
दक्षिण भारतीय फिल्मों से अपने अभिनय करियर की शुरुआत करने वाले अभिनेता अनिल कपूर का कहना है कि ‘‘ सिनेमा का एक आज्ञाकारी शिष्य ’’ बने रहने से उन्हें तीन दशकों तक सिनेमा जगत में प्रासंगिक रहने में मदद मिली।
अनिल ने कहा, ‘‘ मुझे लगता है कि यह चयन, किस्मत और परिवार तीनों का मेल है। सही समय पर, सही पटकथा और निर्देशक मेरे पास आए और मैंने सही निर्णय लिया और फिर मेरे परिवार ने। ’’ उन्होंने कहा, ‘‘ घर पर मेरे संबंध सभी से दोस्ताना है, इसलिए मुझे क्या सही है और क्या गलत यह जानने के लिए बाहर नहीं जाना पड़ता। ’’ ‘ रेस 3’ के अभिनेता का कहना है कि वह भविष्य में ‘‘ और भाषाएं सीखना चाहते हैं, अपनी संवाद अदायगी में सुधार करना चाहते हैं और नए निर्देशकों के साथ काम करना चाहते हैं।’’

शेयर करें

मुख्य समाचार

2 साल पहले बनी पानी टंकी ताश के पत्ते की तरह ढही

16 गांवों में होती थी पानी सप्लाई सन्मार्ग संवाददाता बांकुड़ा : निर्माण के तीन वर्ष पूरा होने से पहले ही ताश के पत्ते की तरह पीएचई की आगे पढ़ें »

असली ‘टुकड़े – टुकड़े गैंग’ है सत्ताधारी पार्टी : थरूर

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : कांग्रेस सांसद शशि थरूर ने बुधवार को कहा कि विकास का कोई एजेंडा नहीं होने के चलते भारतीय जनता पार्टी अब एक आगे पढ़ें »

ऊपर