इस वजह से टल रही है ‘सैक्रेड गेम्स’-2 की रिलीज

मुंबई : नेटफ्लिक्स की बहुचर्चित वेबसीरीज ‘सैक्रेड गेम्स’ की अपार सफलता के बाद दर्शक ‘सैक्रेड गेम्स’-2 का बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं। वहीं इस वेबसीरीज की रिलीज की तारीख लगातार टलती जा रही है। पहले बताया जा रहा था कि इस सीरीज के दूसरे भाग की रिलीज में देरी की मुख्य वजह इसके मुख्य किरदार सैफ अली खान और नवाजुद्दीन सिद्दकी का व्यस्त शेड्यूल है। हालांकि बाद में ये बात साफ हो गई है कि अभिनेताओं का इससे कोई लेना देना नहीं हैं। अब रिलीज टलने की असली वजह सामने आ रही है।
अपने कमिटमेंट को पूरा किया है
अभिनेताओं की वजह से रिलीज में देरी होने की खबर फैलने के बाद इस सीरीज के मुख्य कलाकार सैफ अली खान का बयान सामने आया है। उन्होंने कहा कि, ‘ये सच है कि मैं और नवाजुद्दीन सिद्दीकी दोनों ही दूसरे प्रोजेक्ट्स में व्यस्त हैं। इसका मतलब यह नहीं है कि हम अपने वर्क कमिटमेंट को भूल जाएं। हम व्यस्त जरूर हैं लेकिन अपने कमिटमेंट को पूरा किया है।’
नेटफ्ल‍िक्स की तरफ से देरी
इस संबंध में ‘सैक्रेड गेम्स’के ही एक स्टार ने नाम ना लिए जाने की शर्त पर ‌रिलीज में हो रही देरी की वजह बताई है। उन्होंने कहा कि, सैफ और नवाज दोनों के शूटिंग पार्ट डायरेक्टर नीरज और अनुराग कश्यप पूरी कर चुके हैं। दोनों स्टार्स ने अपना काम वक्त रहते पूरा किया। नए सीजन में देरी नेटफ्ल‍िक्स की तरफ से किसी कारण हो सकती है।

बता दें कि पिछले दिनों फादर्स डे के मौके पर नवाजुद्दीन सिद्दीकी ने ‘सैक्रेड गेम्स’ के अपने किरदार का डायलॉग बोलते हुए एक वीडियो शेयर किया था। इस वीडियो में नवाज कहते नजर आ रहे हैं कि “तीन बाप हैं मेरे। पहले ने डर दिया। दूसरे ने डेयरिंग और तीसरा जिसको सबसे ज्यादा प्यार किया उसने धोखा। तीनों बाप को अपुन को एक ही चीज बोलने का है, हैप्पी फादर्स डे।”

गौरतलब है कि ‘सैक्रेड गेम्स-2’ के प्रति दर्शकों में जबरदस्त क्रेज है और उन्हें इसके रिलीज का बेताबी से इंतजार भी है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

अपराध

कटारिया स्टेशन के पास ट्रेन से कटकर युवक की मौत

भागलपुर : बिहार में पूर्व-मध्य रेलवे के बरौनी-कटिहार रेलखंड के कटारिया स्टेशन के निकट मंगलवार को ट्रेन से कटकर एक युवक की मौत हो गयी। नवगछिया आगे पढ़ें »

विद्यापति की शृंगारिक रचनाओं के नायक-नायिका समाज को पढ़ाते हैं मर्यादा का पाठ

दरभंगा : मैथिली के प्रसिद्ध विद्वान एवं लेखक डॉ. शांतिनाथ सिंह ठाकुर ने मैथिली भाषा के विकास में महाकवि विद्यापति की शृंगारिक रचनाओं के जबरदस्त आगे पढ़ें »

ऊपर