जेफ्री बॉयकॉट और एंड्रयू स्ट्रॉस को ‘सर’ की उपाधि मिली

नाइटहुड से सम्मानित किया जाएगा

लंदनः इंग्लैंड के दो महान क्रिकेटरों जेफ्री बॉयकॉट और एंड्रयू स्ट्रॉस को नाइटहुड से सम्मानित किया जाएगा। दोनों क्रिकेटर्स को ‘सर’ की उपाधि दी गई। ब्रिटेन की पूर्व प्रधानमंत्री थेरेसा मे ने अपने इस्तीफे में दी ऑनर्स लिस्ट में बॉयकॉट और स्ट्रॉस को ‘नाइटहुड’ से सम्मानित करने की घोषणा की। स्ट्रॉस ने 2004 से 2012 तक 100 टेस्ट में 7,037 रन बनाए। वे 2009 और 2010-11 में एशेज जीतने वाली इंग्लैंड टीम के कप्तान थे। स्ट्रॉस माइक गेटिंग (1986-87) के बाद आस्ट्रेलिया में एशेज जीतने वाले दूसरे इंग्लिश कप्तान हैं। स्ट्रॉस 2015 से 2018 तक इंग्लैंड क्रिकेट के डायरेक्टर भी थे। उन्होंने ही 2015 वर्ल्ड कप के बाद इयॉन मॉर्गन को कप्तान बनाए रखने की वकालत की। इसके बाद स्ट्रॉस और मॉर्गन ने वर्ल्ड कप को ध्यान में रखते हुए टीम बनाई। इस साल इंग्लैंड ने पहली बार वनडे वर्ल्ड कप अपने नाम किया।

स्ट्रॉस असाधारण क्रिकेटरः बोर्ड प्रमुख

इंग्लैंड एंड वेल्स क्रिकेट बोर्ड के प्रमुख टॉम हैरिसन ने कहा, ‘हम इससे ज्यादा खुश नहीं हो सकते कि सर एंड्रयू स्ट्रॉस खेल के उन दिग्गजों की सूची में शामिल हो गए हैं, जिन्हें उनकी उपलब्धियों के लिए नाइटहुड दिया गया। पिच पर और उसके बाहर हासिल की उपलब्धियों के अलावा एंड्रयू को इस खेल में एक असाधारण व्यक्ति के रूप में जाना जाता है।’

दूसरी ओर, बॉयकॉट को इंग्लैंड के बेहतरीन ओपनर्स में शामिल किया जाता है। उन्होंने 1964 से 1982 तक 47.72 की औसत से 8,114 रन बनाए। हैरिसन ने आगे कहा ‘बॉयकॉट को उनके लंबे करियर और खेल के प्रति समर्पण के लिए सम्मानित किया गया है।’ बॉयकॉट पूर्व प्रधानमंत्री थेरेसा मे की पसंदीद क्रिकेटर हैं। थेरेसा ने कई मौकों पर सार्वजनिक तौर पर उनकी प्रशंसा की है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

भारतीय गेंदबाजी में किसी भी टीम को सस्ते में समेटने की काबिलियत : स्वान

कोलकाता : इंग्लैंड के पूर्व ऑफ स्पिनर ग्रीम स्वान ने बुधवार को कहा कि जसप्रीत बुमराह की अगुआई वाला भारतीय गेंदबाजी आक्रमण किसी भी टीम आगे पढ़ें »

ब्लैकवुड का आरोप, इंग्लिश टीम स्लेजिंग कर रही थी

मैनचेस्टर : पहले टेस्ट में वेस्टइंडीज की जीत में अहम भूमिका निभाने वालों में शामिल रहे बल्लेबाज जर्मेन ब्लैकवुड ने कहा है कि उनकी मैच आगे पढ़ें »

ऊपर