कोच रवि शास्त्री यो-यो टेस्ट में करना चाहते हैं ये बदलाव

नई दिल्लीः भारतीय टीम के मुख्‍य कोच रवि शास्त्री यो-यो टेस्ट के स्तर को बढ़ाना चाहते हैं। वे फिटनेस स्कोर को 16.1 से 17 करना चाहते हैं। हाल ही में शास्त्री को दोबारा टीम इंडिया का कोच नियुक्त किया है। अब भारतीय टीम के साथ शास्त्री के दूसरे टर्म की शुरुआत दक्षिण अफ्रीका के भारत दौरे के साथ होगी। ऐसे में भारतीय कोच अब वह दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ घरेलू मैदानों पर होम सीरीज की तैयारियों में जुटे हैं। अपनी नई पारी के साथ शास्त्री टीम के फिटनेस लेवल को और बेहतर करना चाहते हैं।
एक रिपोर्ट के मुताबिक, कोच रवि शास्त्री जल्द ही सभी दावेदारों के साथ एक बैठक करने वाले हैं, जिसमें यो-यो टेस्ट बार को बढ़ाकर 17 तक किए जाने पर चर्चा होगी। फिलहाल भारतीय खिलाड़ियों के लिए यो-यो टेस्ट में खिलाड़ियों को 16.1 मार्क को छूना होता है। तभी वे राष्ट्रीय टीम में शामिल हो सकते हैं।
इन्हें हुआ है नुकसान
टीम के फिटनेस लेवल को बढ़ाने के लिए शास्त्री इस मार्क को बढ़ाने चाहते हैं। गौरतलब है कि 2017 में यो-यो टेस्ट को खिलाड़ियों के लिए अनिवार्य बनाया गया था। अंबाती रायडू, संजू सैमसन (इंडिया ए) और मोहम्मद शमी को इस टेस्ट में पास न होने के कारण ड्रॉप किया गया था। सुरेश रैना और युवराज सिंह भी इसकी वजह से ही टीम में वापसी नहीं कर पाए।
पांडे का स्कोर सबसे अधिक
पहली बार यो-यो टेस्ट में फेल होने के बाद अंबाती रायडू और मोहम्मद शमी ने टेस्ट पास कर लिया था। बाद में रैना भी 2018 में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट खेले। हालांकि, युवराज सिंह ने भी यो-यो टेस्ट पास किया था, लेकिन वह टीम में वापसी नहीं कर पाए थे। मनीष पांडे ने यो-यो टेस्ट में 19.2 मार्क हासिल किया था।
रोहित से ओपनिंग कराना चाहते हैं शास्त्री
एक रिपोर्ट के अनुसार शास्त्री टेस्ट क्रिकेट में ओपनिंग की जिम्मेदारी रोहित शर्मा को देने के पक्ष में हैं। शास्त्री के समर्थन के बाद यह उम्मीद की जा रही है कि 2 अक्टूबर से शुरू होने वाली टेस्ट सीरीज में रोहित ओपनर होंगे। इसके पीछे एक बड़ा कारण यह बताया जा रहा है कि केएल राहुल लगातार फ्लॉप चल रहे हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

लोगों में पीओके की आजादी के लिये ‘जुनून’ है : ठाकुर

जम्मू : केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने सोमवार को कहा कि जम्मू-कश्मीर के विशेष दर्जे को समाप्त करने के बाद पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर आगे पढ़ें »

पिछले पांच-छह साल में बढ़े हैं दलितों पर अत्याचार : प्रशांत भूषण

नयी दिल्ली : भीम आर्मी द्वारा आयोजित संवाददाता सम्मेलन में सामाजिक कार्यकर्ता व वकील प्रशांत भूषण ने सोमवार को आरोप लगाया कि पिछले पांच-छह साल आगे पढ़ें »

ऊपर