स्टोक्स ने अंपायरों को ओवरथ्रो के रन इंग्लैंड के स्कोर में नहीं जोड़ने को कहा थाः एंडरसन

लंदनः आईसीसी विश्व कप 2019 की छवि कहीं ना कहीं पूरे विश्व भर में खराब हो चुकी है। इसके मुख्य तौर पर दो ही कारण है- खराब अंपायरिंग, ओवर थ्रो में एक अति रिक्त रन। इंग्लैंड के पूर्व दिग्गज जेम्स एंडरसन ने इस पर छुप्पी तोड़ी है। एंडरसन ने कहा विश्व कप में टीम की जीत के हीरो बेन स्टोक्स ने रविवार को न्यूजीलैंड के खिलाफ फाइनल के दौरान अंपायरों को टीम के स्कोर से ओवरथ्रो के चार रन हटाने को कहा था जो अंत में निर्णायक साबित हुए। न्यूजीलैंड के क्षेत्ररक्षक मार्टिन गुप्टिल का थ्रो स्टोक्स के बल्ले से टकराकर चार रन के लिए चला गया था। स्टोक्स इस समय दूसरा रन पूरा करने का प्रयास कर रहे थे।

भाग कर लिए दो रन और ओवरथ्रो की बाउंड्री से स्टोक्स को छह रन दिए गए जबकि कुछ विशेषज्ञों का मानना है कि पांच ही रन दिए जाने चाहिए थे और ऐसी स्थिति में इंग्लैंड को न्यूजीलैंड के खिलाफ एक रन से हार का सामना करना पड़ता जिसने आठ विकेट पर 241 रन बनाए थे।

तुरंत माफी मांगी थी

टेस्ट टीम में स्टोक्स के साथी एंडरसन ने कहा कि इस आलराउंडर ने ओवरथ्रो के तुरंत बाद हाथ उठाकर माफी मांग थी और अंपायरों से अपील की थी कि वे अपना फैसला बदल दें।

एंडरसन ने कहा ‘क्रिकेट की शिष्टता यह है कि अगर गेंद विकेटों की तरफ फेंकी जाए और यह आपसे टकराने के बाद खाली जगह पर चली जाए जो आप रन नहीं लें। लेकिन अगर यह बाउंड्री के लिए चली जाए तो नियमों के अनुसार यह चौका है और आप इसमें कुछ नहीं कर सकते।’

अंपायर से तुरंत की थी बातचीत

एंडरसन ने कहा ‘बेन स्टोक्स असल में अंपायरों के पास गया था और कहा था कि ‘क्या आप चार रन हटा सकते हो, हम ये रन नहीं चाहते’। लेकिन यह नियम है और ऐसा ही है।’

शेयर करें

मुख्य समाचार

ऊपर