शोएब ने 2011 विश्व कप सेमीफाइनल-फाइनल मैच के टिकट मांगे थे- हरभजन

नयी दिल्ली: भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व स्पिनर हरभजन सिंह ने पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर से जुड़ा एक किस्सा अपने प्रशंसकों से साझा करते हुए बताया कि भारत में 2011 क्रिकेट विश्व कप के दौरान शोएब ने अपने परिजनों के लिए सेमीफाइनल और फाइनल मैच के टिकट मांगे थे। यह किस्सा हरभजन ने इंग्लैंड में चल रहे विश्व कप के दौरान एक टीवी चैनल शो में बताया जिसमें भज्जी बतौर क्रिकेट विशेषज्ञ शामिल थे। उनके मुताबिक, विश्व कप 2019 में 16 जून को होने वाले भारत-पाकिस्तान मैच में जीत एकबार फिर भारतीय टीम की होगी।

सुनीये हरभजन की जुबानी ये किस्‍सा

-हरभजन ने बताया कि ‘2011 विश्व कप का पहला सेमीफाइनल भारत और पाकिस्तान के बीच मोहाली में खेला जाना था। इस मैच को देखने के लिए शोएब के परिजन भारत आए हुए थे। मैच से पहले जब मैं शोएब से मिला तो उन्होंने मुझसे सेमीफाइनल के टिकट मांगे, तब मैंने उनके लिए 4 टिकट का इंतजाम कर दिया था।’

-भज्जी के अनुसार ‘इसके बाद उन्होंने मुझसे फाइनल मैच के टिकट भी मांगे, तब मैंने उनसे पूछा था कि तुम उसका क्या करोगे? वो तो भारत जीतने वाला है, फिर भी अगर तुम आना चाहते हो तो मैं तुम्हारे लिए 2-4 टिकट का इंतजाम कर दूंगा।’

-गौरतलब है कि मोहाली में हुए सेमीफाइनल मैच में भारत ने पाकिस्तान को 29 रन से हराया था और फाइनल में अपनी जगह बनाई थी। पाकिस्तान की विश्व कप टीम का हिस्सा होने के बावजूद शोएब अख्तर इस मैच में नहीं खेल पाए थे। इसके बाद मुंबई में फाइनल मैच होना था जिसमें भारतीय टीम ने श्रीलंका को 6 विकेट से हराते हुए विश्व कप जीता था।

-हरभजन सिंह ने सेमीफाइनल मैच में भारत को जीत दिलाने में मुख्य योगदान था। मैच में भज्जी ने 10 ओवरों में 43 रन देकर 2 विकेट लिए थे और भारतीय टीम के लिए खतरनाक दिखाई दे रहे उमर अकमल को भी आउट किया था।

शेयर करें

मुख्य समाचार

rajeev-kumar

राजीव पर शिकंजा कसने आ रहे हैं ‘स्पेशल 12’

सप्ताह भर के अंदर कार्रवाई होगी पूरी : सीबीआई सूत्र अलीपुर कोर्ट में कैविएट दायर किया राजीव कुमार ने सीबीआई जारी करा सकती है वारंट सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : आगे पढ़ें »

मोदी से मिलीं ममता, बंगाल से जुड़े मसले पर हुई चर्चा

पीएम को बंगाल आने का दिया न्योता राज्य के नामकरण को लेकर हुई चर्चा एनआरसी के मुद्दे पर नहीं हुई बात सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता/नई दिल्ली : मुख्यमंत्री ममता बनर्जी आगे पढ़ें »

ऊपर