पाक ने की कमाल की वापसी, इंग्लैंड को दिया 349 रन का लक्ष्य

हफीज ने सर्वाधिक 84 रन बनाए, आजम और सरफराज ने भी अर्धशतक जड़ा

क्रिस वोक्स और मोईन अली ने तीन-तीन विकेट लिए

नाटिंघमः अनुुुभवी बल्लेबाज मोहम्मद हफीज की जीवनदान के बाद खेली गई बड़ी पारी तथा अन्य बल्लेबाजों के उपयोगी योगदान से पाकिस्तान ने मेजबान इंग्लैंड के खिलाफ आईसीसी विश्व कप मैच में सोमवार को यहां आठ विकेट पर 348 रन का मजबूत स्कोर बनाया जो इस टूर्नामेंट में व्यक्तिगत शतक के बिना सर्वोच्च स्कोर है।

हफीज ने 62 गेंदों पर आठ चौकों और दो छक्कों की मदद से 84 रन बनाये। उनके अलावा बाबर आजम (66 गेंदों पर 63 रन) और कप्तान सरफराज अहमद (44 गेंदों पर 55 रन) ने भी अर्धशतक जमाये। इस बीच पाकिस्तान की तरफ से 80 रन से अधिक की तीन साझेदारियां निभायी गयी।

आर्चर को नहीं मिला एक भी विकेट

इंग्लैंड की गेंदबाजी के अगुवाई जोफ्रा आर्चर नाकाम रहे। उन्होंने दस ओवर में 79 रन लुटाये। मोईन अली (50 रन देकर तीन) सबसे सफल गेंदबाज रहे जबकि मार्क वुड ने दो विकेट लिये। क्रिस वोक्स (71 रन देकर तीन विकेट) ने चार कैच लिये और विश्व कप में यह कारनामा करने वाले चौथे क्षेत्ररक्षक बने।

इन दोनों टीमों के बीच हाल में पांच मैचों की एकदिवसीय सीरीज में इंग्लैंड का दबदबा रहा था। तब इयोन मोर्गन की अगुवाई वाली टीम ने बड़े लक्ष्य आसानी से हासिल किये थे। परिस्थितियां बल्लेबाजी के अनुकूल हैं और पाकिस्तान केवल चार मुख्य गेंदबाजों के साथ उतरा है, ऐसे में उसे इंग्लैंड को विश्व कप में सबसे बड़ा लक्ष्य हासिल करने वाली टीम बनने से रोकने के लिये अतिरिक्त प्रयास करने होंगे।

86 रन जोड़े

बहरहाल वेस्टइंडीज के खिलाफ केवल 105 रन पर ढेर होने वाले पाकिस्तानी बल्लेबाजों ने शानदार वापसी की। इमाम उल हक (44) और फखर जमां (36) ने पहले विकेट के लिये 86 रन जोड़े। इस साझेदारी की विशेषता यह रही कि इन दोनों ने जोफ्रा आर्चर जैसे गेंदबाजों को खुद पर हावी नहीं होने दिया। इमाम का वोक्स पर लगाए गए छक्के से इनका आत्मविश्वास दिख रहा था।

बेहतरीन क्षेत्ररक्षण का नमूना पेश किया

मोईन के रूप में स्पिनर आने के बाद ये दोनों बल्लेबाज थोड़ा धीमे पड़े। आखिर में मोईन ने ही यह साझेदारी तोड़ी लेकिन इसमें जोस बटलर का योगदान अहम रहा जिन्होंने फुर्ती दिखाकर फखर को स्टंप किया। मोईन ने ही इमाम को भी पवेलियन भेजा लेकिन वह वोक्स थे जिन्होंने दौड़ लगाकर लांग आफ पर कैच लिया।

रॉय ने छोड़ा हफीज का कैच

लेग स्पिनर आदिल राशिद को अपने दूसरे ओवर में हफीज का विकेट मिल जाता लेकिन बेहतरीन क्षेत्ररक्षकों में से एक जेसन रॉय ने आसान कैच छोड़ दिया। हफीज तब 14 रन पर थे और उन्होंने इसका फायदा उठाकर 39 गेंदों पर अपना 38वां अर्धशतक पूरा कर दिया। इससे पहले बाबर ने वनडे में अपना 13वां अर्धशतक लगाया था। इन दोनों के बीच तीसरे विकेट के लिये 88 रन की साझेदारी फिर से मोईन ने तोड़ी जब वोक्स ने दौड़ लगाकर एक और शानदार कैच लपका।

80 रन की साझेदारी

हफीज जीवनदान का भरपूर फायदा उठाने के मूड में दिख रहे थे। मार्क वुड पर उन्होंने बेहतरीन टाइमिंग से फ्लिक करके छक्का लगाया लेकिन उनके इस ओवर में वोक्स ने फिर से लांग आफ पर एक और दर्शनीय कैच लपककर हफीज की पारी का अंत किया। हफीज और सरफराज ने चौथे विकेट के लिये 80 रन जोड़े।

पाकिस्तान ने इसके बाद आसिफ अली (14), सरफराज, वहाब रियाज (7) और शोएब मलिक (8) के विकेट गंवाये लेकिन तब भी अंतिम पांच ओवरों में वह 51 रन जोड़ने में सफल रहा। हसन अली और शदाब खान 10-10 रन बनाकर नाबाद रहे।

शेयर करें

मुख्य समाचार

ऊपर