थिसेनक्रुप के बायोमास बॉयलर्स के जरिए प्रदूषण को कम करने में मिलेगी मदद

नई दिल्ली : थिसेनक्रुप इन्डस्ट्रीज इंडिया ने डेनमार्क के बेबकोक एन्ड विलकोक्स के साथ बी एंड डब्ल्यू इंटरप्राइजेस प्रमाणित, यूरोपीय-डिजाइन वाले, बायोमॉस बॉयलर के लिए पानी को ठंडा करने वाली भट्ठी तकनीक के लिए एक विशेष लाइसेंस समझौता किया है। इसका मकसद भारत के अलावा दूसरे पड़ोसी देशों जैसे नेपाल, श्रीलंका, बांग्लादेश,म्यांमार और भूटान को सुविधा उपलब्ध कराना है। थिसेनक्रुप इंडस्ट्रीज इंडिया, थिसेनक्रुप के औद्योगिक समाधान व्यवसाय का हिस्सा है।

इस समझौते से भारत और अन्य बाजारों में बायोमास के उपयोग के माध्यम से स्वच्छ अक्षय ऊर्जा की आवश्यकता को पूरा करने के प्रयासों में थिसेनक्रुप की यह अब तक की दूसरी और महत्वपूर्ण उपलब्धि है। इस प्रगति पर टिप्पणी करते हुए, थिसेन क्रुप इंडस्ट्रीज इंडिया के सीईओ और प्रबंध निदेशक विवेक भाटिया ने कहा कि सर्दियों के दौरान उत्तरी भारत में प्रदूषण के महत्वपूर्ण कारणों में से एक खेतों में फसल अपशिष्टों को जलाना रहा है। बेबकोक एंड विलकोक्स के साथ इस समझौते के माध्यम से हम स्वच्छ ऊर्जा उत्पादन के लिए इस फसल अपशिष्ट का उपयोग कर इस मसले का एक स्थायी समाधान खोजने में सक्षम होंगे। बायोमास बॉयलरों के लिए बेबकोक एंड विलकोक्स की वाटर-कूल्ड वाइब्रेटिंग तकनीक विभिन्न बायोमास ईंधन (उच्च क्षार और क्लोरीन सामग्री वाले) का भी समाधान कर सकती है।

बी एंड डब्ल्यू का वाटर-कूल्ड वाइब्रेटिंग ग्रेट को काफी कम या लगभग नहीं के बराबर राख सामग्री के साथ बायोमास और मल्टी-फ्यूल के दहन के लिए विकसित किया गया था। पिछले कई दशकों में यह भट्ठी अपनी उच्च उपलब्धता कम रखरखाव लागत और स्पेयर पार्ट्स की कम खपत के मामले में प्रभावी साबित हुई है। यह उच्च क्षार और क्लोरीन सामग्री वाले ईंधन जैसे चावल के भूसे के लिए भी काफी अनुकूल है, जो की भारत और इस क्षेत्र के अन्य देशों में कृषि का एक सामान्य उप-उत्पाद है। बी एंड डब्ल्यू के प्रबंध निदेशक कोएन डब्ल्यू बोगर्स ने कहा कि थिसेनक्रुप इन्डस्ट्रीज इंडिया के साथ यह समझौता भारत मंा बढ़ते अक्षय ऊर्जा बाजार तक पहुंचने में बी एंड डब्ल्यू का एक महत्वपूर्ण कदम है। उन्होंने कहा कि हमारी प्रमाणित बायोमास दहन तकनीक औद्योगिक और बिजली उपयोगकर्ताओं को चावल के भूसे और अन्य अपशिष्ट ईंधन के दहन से पर्यावरणीय प्रभाव को कम करने में मदद करते हुए स्वच्छ,नवीकरणीय ऊर्जा का उत्पादन करने में मदद करेगी।

थिसेनक्रुप औद्योगिक समाधान भाप और बिजली उत्पादन संयंत्रों, चीनी और सीमेंट संयंत्रों, मशीनरी, खनन और सामग्री हैंडलिंग उपकरण और स्वच्छ ऊर्जा के क्षेत्र में सबसे भरोसेमंद नामों में से एक है। कंपनी वर्तमान में सुखबीर एग्रो एनर्जी लिमिटेड द्वारा संचालित दो बायोमास पॉवर प्लांट्स के लिए 80 टन प्रति घंटा वाले दो हाई प्रेशर बॉयलर्स के जरिए धान के पुआल (अपशिष्ट) का निष्पादन कर रही है।

Leave a Comment

अन्य समाचार

स्पाइसजेट ने जेट एयरवेज के 500 कर्मचारियों को दिया रोजगार

नई दिल्ली : लगभग बंद हो चुकी जेट एयरवेज एयरलाइंस के कर्मचारियों की मदद करने के लिए स्पाइसजेट आगे आई है. स्पाइसजेट ने उन्हें नौकरी देने की बात कही है. इसे लेकर स्पाइसजेट की हर तरफ तारीफ हो रही है, [Read more...]

व्यापारियों को बिना गारंटी दिलाएंगे 50 लाख तक कर्ज: मोदी

10 लाख तक बीमा और छोटे का​रोबारियों को पेंशन का वादा दोहराया नयी दिल्लीः छोटे कारोबारियों को लुभाने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को कई वादे ​किए। दिल्ली में राष्ट्रीय व्यापारी सम्मेलन में मोदी ने कहा, 'भाजपा 23 मई [Read more...]

मुख्य समाचार

आरबीआई ने रेपो रेट घटाई, लोन सस्ते होने की उम्मीद

मुंबईः भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने रेपो रेट में 0.25% की कटौती की है। यह 6.25% से घटकर 6% हो गई है। मॉनेटरी पॉलिसी कमेटी (एमपीसी) की बैठक खत्म होने के बाद गुरुवार को ब्याज दरों की घोषणा की गई। [Read more...]

कांग्रेस का पूरा घोषणापत्र हिंदी में पढ़ें

कांग्रेस ने मंगलवार को अपना घोषणापत्र जारी किया जिसमें गरीब परिवारों को 72 हजार रुपये सालाना, 22 लाख सरकारी नौकरियां, महिलाओं को आरक्षण, धारा 370 को न हटने देने और देशद्रोह की धारा हटाने सहित कई वादे किए। यहां क्लिक [Read more...]

ऊपर