नए साल में लगेगा मोबाइल टैरिफ का झटका, 15-20% बढ़ोतरी की उम्मीद

– टेलीकॉम कस्टमर्स के लिए हो सकती है बुरी खबर

नई दिल्ली : टेलीकॉम कंपनियों द्वारा दिसंबर के अंत या जनवरी के शुरुआत तक मोबाइल टैरिफ में 15 से 20 फीसदी बढ़ोतरी होने का अनुमान लगाया जा रहा है। टेलीकॉम कंपनियों का कहना है कि बिजनेस में हो रहे घाटे की वजह से वे ऐसा करने के लिए मजबूर हैं।

गौरतलब है कि एजीआर की वजह से इस वित्त वर्ष में ज्यादातर टेलीकॉम कंपनियों को भारी घाटा हुआ है। सूत्रों के अनुसार, वोडफोन आइडिया दिसंबर के अंत या जनवरी से अपने मोबाइल टैरिफ में 15 से 20 फीसदी की बढ़त कर सकती है। इसके अलावा, भारती एयरटेल भी टैरिफ में बढ़ोतरी कर सकती है, हालांकि वह इस बारे में रिलायंस जियो के कदम उठाने के बाद ही शायद कोई निर्णय ले।

क्या है बढ़त की वजह 

गौरतलब है कि ऐसा अनुमान लगाया गया है कि एजीआर (एडजस्टेड ग्रॉस रेवेन्यू) और अन्य वजहों से होने वाले भारी घाटे से निपटने के लिए कंपनियों को टैरिफ में 25 फीसदी तक की भारी बढ़ोतरी करनी होगी, लेकिन एक बार में यह बढ़त करना संभव नहीं है। इसलिए कंपनियां दो या तीन बार में ऐसा करने का फैसला कर सकती हैं।

तीनों प्रमुख टेलीकॉम कंपनियों – वोडाफोन, एयरटेल और रिलायंस जियो – ने इसके पहले दिसंबर 2019 में टेलीकॉम टैरिफ बढ़ाया था। साल 2016 में रिलायंस जियो के इस बाजार में उतरने के बाद जबरदस्त प्राइस वार शुरू हुआ था, जिसके बाद 2019 में पहली बार कंपनियों ने टैरिफ बढ़ाये थे।

क्यों हो रहा यह घाटा

सितंबर 2020 तक के आंकड़ों के मुताबिक, प्रति ग्राहक सबसे ज्यादा कमाई भारती एयरटेल ने किया है। भारती एयरटेल का प्रति ग्राहक औसत रेवेन्यू (एआरपीयू) 162 रुपये है, जबकि रिलायंस जियो का 145 रुपये और वीआई यानी वोडाफोन आइडिया का सिर्फ 119 रुपये। सरकार द्वारा वसूले जाने वाले एजीआर की वजह से भारत की टेलीकॉम कंपनियों को भारी नुकसान हुआ है। वोडाफोन आइडिया को पिछले साल की दूसरी तिमाही में भारतीय कॉरपोरेट इतिहास का सबसे ज्यादा 50,921 करोड़ रुपये का बड़ा घाटा हुआ था।

हालांकि, उच्च न्यायालय ने एजीआर बकाया चुकाने के लिए मोहलत दी है। उसने कंपनियों को एजीआर बकाया चुकाने के लिए 10 साल का समय दिया है। इस निर्णय से वोडाफोन आइडिया और एयरटेल को खासा राहत मिली है। दूरसंचार कंपनियों को बकाया चुकाने के लिए यह समय कुछ शर्तों के साथ दिया गया है।

 

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

टी-20 में ऑस्ट्रेलिया को कड़ी चुनौती देगा भारत, ऑस्ट्रेलिया में 12 साल से सीरीज नहीं हारी टीम इंडिया

कैनबरा : एक दिवसीय श्रृंखला में विकल्पों की कमी के कारण मिली हार के बाद भारतीय क्रिकेट टीम शुक्रवार से शुरू हो रही तीन मैचों आगे पढ़ें »

रेसलिंग वर्ल्ड कप में उतरेंगे भारत के 24 पहलवान

नयी दिल्ली : कोरोना के बीच सर्बिया के बेलग्रेड में 12 से 18 दिसंबर के बीच इंडिविजुअल रेसलिंग वर्ल्ड कप खेला जाएगा। इसमें दीपक पुनिया, आगे पढ़ें »

ऊपर