पाकिस्तान को आठ अरब रुपये से अधिक की चपत

बालाकोट हवाई हमले के बाद वायु क्षेत्र किया था बंद

कराचीः फरवरी महीने में बालाकोट हवाई हमले के बाद पाकिस्तान को अपने वायु क्षेत्र को बंद करने से आठ अरब रुपये से अधिक का नुकसान हुआ है। फरवरी में भारतीय वायुसेना ने पुलवामा में हुए आतंकवादी हमले के बाद बालाकोट में स्थित जैश-ए-मोहम्मद के प्रशिक्षण शिविर पर हवाई हमला किया था। इसके बाद पाकिस्तान ने 26 फरवरी को अपने वायु क्षेत्र को पूरी तरह से बंद कर दिया था।

क्या है स्थित‌िः इस सप्ताह मंगलवार को पाकिस्तान ने असैन्य उड़ानों के लिये अपने वायु क्षेत्र को फिर से खोलने की घोषणा की। पाकिस्तान के विमानन मंत्री गुलाम सरवर खान ने यहां नागर विमानन प्राधिकरण के मुख्यालय में एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि वायुक्षेत्र बंद करने के कारण प्राधिकरण को 8.5 अरब रुपये का नुकसान उठाना पड़ा है। मंत्री के हवाले से डॉन अखबार ने कहा, ‘यह हमारे विमानन उद्योग के लिये बड़ा नुकसान है। लेकिन वायु क्षेत्र बंद करने से पाकिस्तान की अपेक्षा भारत को अधिक नुकसान हुआ है। भारत को लगभग दोगुना नुकसान हुआ है। अब दोनों पक्षों की ओर से सहृदयता की आवश्यकता है।’ उन्होंने कहा कि विमानन नीति 2019 के तहत सुरक्षा एजेंसियों को अंतरराष्ट्रीय मानक के अनुकूल बनाने के लिये आधुनिक उपकरणों एवं स्कैनरों से लैस किया जाएगा।

शेयर करें

मुख्य समाचार

मणिपुर में कांग्रेस के छह विधायकों ने विधानसभा की सदस्यता और पार्टी से दिया इस्तीफा

इम्फाल : मणिपुर में कांग्रेस के छह विधायकों ने विधानसभा की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया और मंगलवार को पार्टी भी छोड़ दी। इन छह आगे पढ़ें »

आईपीएल की तैयारियां देखने यूएई जाएगी बीसीसीआई की टीम

दुबई : भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) अधिकारियों के एक शीर्ष प्रतिनिधिमंडल के अगस्त के तीसरे सप्ताह तक दुबई में पहुंचने की उम्मीद है, जो आगे पढ़ें »

ऊपर