बीएसएनएल के 77,000 से ज्यादा कर्मचारियों ने चुना वीआरएस, 1 लाख कर्मचारी हैं योग्‍य

bsnl

नई दिल्ली : दूरसंचार कंपनी भारत संचार निगम लिमिटेड (बीएसएनएल) के 77,000 से ज्यादा कर्मचारियों ने अब तक स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति योजना यानी वीआरएस का विकल्प चुना है। सूत्रों ने यह जानकारी दी। बताया जा रहा है कि बीएसएनएल के कुल डेढ लाख कर्मचारियों में से करीब एक लाख कर्मचारी वीआरएस लेने के पात्र हैं। वहीं स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति योजना की प्रभावी तारीख 31 जनवरी 2020 है।

यह योजना 3 दिसंबर तक खुली रहेगी

बीएसएनएल के एक अधिकारी ने बताया कि अब तक वीआरएस चुनने वाले कर्मचारियों की संख्या 77,000 के पार जा पहुंची है। हाल ही में ‘बीएसएनएल स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति योजना -2019’ पेश की गई है और यह 3 दिसंबर तक खुली रहेगी। बीएसएनएल को उम्मीद है कि यदि 70,000 से 80,000 कर्मचारी वीआरएस योजना को अपनाएंगे तो इससे वेतन मद में करीब 7,000 करोड़ रुपये की बचत होगी।

इस योजना के दायरे में हैं ये कर्मचारी

बीएसएनएल की इस योजना के अनुसार, 50 साल या इससे अधिक उम्र के कर्मचारी इसके दायरे में हैं। महानगर टेलीफोन निगम लिमिटेड भी वीआरएस योजना लायी है। कर्मचारियों के लिए यह योजना भी 3 दिसंबर तक खुली है। उल्लेखनीय है कि पिछले महीने केंद्रीय मंत्रिमंडल ने एमटीएनएल को बीएसएनल में मिलाने की योजना को मंजूरी दी थी। सरकार ने इन दोनों सरकारी दूरसंचार कंपनियों के लिए जिस राहत पैकेज की मंजूरी दी थी उसमें 4जी स्‍पेक्‍ट्रम की खरीदारी के लिए 20,140 करोड़ रुपये, स्‍पेक्‍ट्रम आवंटन पर दिये जाने वाले 3,674 करोड़ रुपये जीएसटी और अन्‍य खर्चे शामिल हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

माता पिता के साथ हुए नस्ली भेदभाव की बात करते रो पड़े होल्डिंग

साउथम्पटन : वेस्टइंडीज के अपने जमाने के दिग्गज गेंदबाज माइकल होल्डिंग नस्लवाद पर दमदार भाषण देने के एक दिन बाद सीधे प्रसारण के दौरान अपने आगे पढ़ें »

शाहरुख ने मुझे गंभीर जैसी आजादी नहीं दी : गांगुली

नयी दिल्‍ली : मौजूदा बीसीसीआई अध्यक्ष और टीम इंडिया के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली ने कोलकाता नाइट राइडर्स (केकेआर) के को-ओनर शाहरुख खान को लेकर आगे पढ़ें »

ऊपर