2019 के अंत तक 62.70 करोड़ पहुंच जाएगी इंटरनेट यूजर्स की संख्या

नई दिल्ली : देश में इंटरनेट यूजर्स कि संख्या 2019 के अंत तक बढ़कर 62.70 करोड़ पर पहुंच जाएगी. बाजार शोध एजेंसी कंटर आईएमआरबी के आंकड़ों के मुताबिक ग्रामीण क्षेत्रों में इंटरनेट का इस्तेमाल बढ़ने से पहली बार देश में इंटरनेट उपयोगकर्ताओं की संख्या 56.60 करोड़ के पार हो गयी है. एजेंसी ने आईक्यूब 2018 रिपोर्ट में कहा कि देश में इंटरनेट उपयोगकर्ताओं की संख्या में 18 प्रतिशत की दर से वृद्धि दर्ज की गयी और ये दिसंबर 2018 तक बढ़कर 56.60 करोड़ पर पहुंच गई. यह कुल आबादी का 40 प्रतिशत है.

एजेंसी ने अपने अध्ययन में पाया कि 2019 में इंटरनेट का उपयोग करने वालों की संख्या में दहाई अंकों में वृद्धि होगी और 2019 के अंत तक संख्या 62.70 करोड़ पर पहुंच जाएगी. इनमें 87 प्रतिशत यानी 49.30 करोड़ लोग इंटरनेट का नियमित उपयोग करने वाले हैं. नियमित उपयोगकर्ता उन लोगों को कहा जाता है, जिन्होंने पिछले 30 दिन में इंटरनेट का इस्तेमाल किया हो. करीब 29.30 करोड़ नियमित उपयोगकर्ता शहरी क्षेत्रों में हैं, जबकि ग्रामीण क्षेत्रों में 20 करोड़ नियमित इंटरनेट उपयोग करने वाले शामिल हैं. एजेंसी ने कहा कि शहरी क्षेत्रों में 2018 में इंटरनेट उपयोग करने वालों की संख्या सात प्रतिशत की दर से बढ़कर 31.50 करोड़ पर पहुंच गयी.

रिपोर्ट में कहा गया है कि अब इंटरनेट अपनाने की अगुआई ग्रामीण क्षेत्र कर रहे हैं. पिछले साल ग्रामीण क्षेत्र में इंटरनेट उपयोगकर्ताओं की संख्या 35 प्रतिशत बढ़ी है. ऐसे में अनुमान है कि ग्रामीण भारत में अभी 25.10 करोड़ इंटरनेट उपयोगकर्ता हैं, जिनके 2019 के अंत तक बढ़कर 29 करोड़ हो जाने का अनुमान है. राज्यों के मामले में शहरी एवं ग्रामीण दोनों क्षेत्रों में बिहार जैसे राज्य में इंटरनेट उपभोक्ताओं की संख्या सर्वाधिक 35 प्रतिशत बढ़ी है. कुल इंटरनेट उपभोक्ताओं में महिलाओं की भी 42 प्रतिशत हिस्सेदारी है.

शेयर करें

मुख्य समाचार

जेके वॉल पुट्टी को मिली नई पहचान, जेके सीमेंट वॉलमैक्स के साथ हुआ लॉन्च

नई दिल्ली: भारत की प्रमुख सीमेंट कंपनी जेके सीमेंट ने अपने प्रतिष्ठित ब्रांड जेके वॉल पुट्टी के लिए एक ब्रांड रि-लॉन्च किया है, जिसका नाम आगे पढ़ें »

गुरु नानक के नाम पर भवन बनायेगी राज्य सरकार

कोलकाता : सोमवार को मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने घोषणा की कि सिख गुरुओं के पहले गुरु और सिख धर्म के संस्थापक गुरु नानक की 550वीं आगे पढ़ें »

ऊपर