कोरोना वायरस के कारण मुडीज ने एक बार फिर घटाई जीडीपी ग्रोथ

नई दिल्ली : कोरोना वायरस के लगातार प्रसार के कारण दुनिया भर की अर्थव्यवस्था प्रभावित हुई है। भारत भी इससे अछूता नहीं है, रेटिंग एजेंसी मूडीज ने वित्त वर्ष 2020 के लिए भारत के आर्थिक विकास के अनुमान को आज एक बार फिर से घटाकर 5.3 फीसद कर दिया।

एजेंसी ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि कोरोना वायरस से जुड़े प्रभावों के चलते जीडीपी वृद्धि से जुड़े अनुमान में यह कमी की गई है। हालांकि मुडीज ने इससे पहले फरवरी में कहा था कि 2020 में भारत की वास्तविक विकास दर 5.4% रह सकती है, तब एजेंसी ने 6.6 फीसद की दर से आर्थिक विकास में वृद्धि की संभावना जाहिर की थी। आपको बता दें कि वित्त वर्ष 2019 में देश की आर्थिक वृद्धि की रफ्तार 5.3 फीसद पर रही। वहीं, 2018 में यह आंकड़ा 7.4 फीसद पर था।

मूडीज ने कहा कि कोरोना के तेजी से फैलने के कारण अर्थव्यवस्था को काफी नुकसान हुआ है। प्रभावित देशों में घरेलू मांग में जबरदस्त कमी आई है और इससे सप्लाई चेन और सामान एवं सेवाओं की आवाजाही बाधित हुई है। वहीं मुडीज ने 2021 में देश की आर्थिक वृद्धि की रफ्तार 5.8 फीसद पर रहने का अनुमान जताया है।

 राहत पैकेज से सुधरेंगे हालत

मूडीज ने अपने रिपोर्ट में कहा है कि भारत समेत दुनिया भर के देशों में कोरोना से होने वाले नुकसान को कम करने के लिए राहत पैकेज दिया जा रहा है। इन उपायों से कुछ हद तक इस संक्रमण को कम किया जा सकेगा।

शेयर करें

मुख्य समाचार

दांत सही होने की बजाय, महिला की मौत, 1 लाख की क्षतिपूर्ति

कोलकाताः रॉयड नर्सिंग होम में अपने दांत को ठीक करवाने के लिए अंजना साहा पहुंची थीं। एनेस्थिया के बाद ही वह अस्वस्थ हो गई थीं। आगे पढ़ें »

गर्मी बढ़ी, काेलकाता में तापमान 33 डिग्री के पार

जिलों में तपिश बढ़ी, मिदनापुर-झाड़ग्राम में 37 डिग्री मार्च-अप्रैल जैसी गर्मी का अहसास कोलकाता : बसंत उत्सव जाते ही महानगर का मौसमी मिजाज बदल गया है। गुरुवार आगे पढ़ें »

ऊपर