Microsoft का बड़ा ऐलान, भारत में 75000 महिला डेवलपर्स को दी जाएगी ट्रेनिंग

शेयर करे
बेंगलुरु: माइक्रोसॉफ्ट के चेयरमैन एवं मुख्य कार्यपालक अधिकारी (CEO) सत्य नडेला ने ‘कोड विदाउट बैरियर्स’ कार्यक्रम का भारत में विस्तार करने की घोषणा की। इसका लक्ष्य 2024 तक 75,000 महिला डेवलपर्स को प्रशिक्षित करना है। नडेला ने यहां ‘माइक्रोसॉफ्ट AI टूर’ में 1,100 डेवलपर्स और प्रौद्योगिकी दिग्गजों को संबोधित करते हुए विश्वस्तर पर AI नवाचार में तेजी लाने में भारतीय डेवलपर्स भी भूमिका को रेखांकित किया। उन्होंने कहा कि यह कार्यक्रम देशभर में प्रौद्योगिकी कौशल तक पहुंच को लोकतांत्रिक बनाने के लिए है।
कंपनी का लक्ष्य 

नडेला ने कहा, ‘मैं जिन चीजों को लेकर बेहद खुश हूं उनमें अपनी एक पहल जिसे हम ‘कोड विदाउट बैरियर्स’ कहते हैं उसका भारत में विस्तार करना और 2024 तक 75,000 महिला डेवलपर्स की मदद करना है। ‘कोड विदाउट बैरियर्स’ कार्यक्रम का इस महीने भारत में विस्तार किया जाएगा। कंपनी का लक्ष्य देशभर में प्रौद्योगिकी कौशल तक पहुंच को लोकतांत्रिक बनाना है।

बयान के अनुसार, ‘क्षेत्र के तेजी से बढ़ते क्लाउड, एआई और डिजिटल प्रौद्योगिकी क्षेत्रों में लैंगिक अंतर को पाटने में मदद करने के लिए यह कार्यक्रम 2021 में नौ एशिया प्रशांत (एपीएसी) देशों में शुरू किया गया था। यह महिला डेवलपर्स तथा कोडर्स और अन्य प्रौद्योगिकी भूमिकाओं में शामिल लोगों को समावेशी आर्थिक वृद्धि में योगदान देने, नवाचार को प्रोत्साहित करने तथा क्षेत्र की सामाजिक संरचना को प्रतिबिंबित करने के लिए सहायता, प्रशिक्षण और नेटवर्किंग के अवसर प्रदान करता है।’ माइक्रोसॉफ्ट ने कहा कि वह कार्यक्रम के तहत 2024 में भारत में 75,000 महिला डेवलपर्स को कौशल और प्रमाणन प्रदान करेगा।

Sikshana Foundation और माइक्रोसॉफ्ट रिसर्च इंडिया द्वारा संयुक्त रूप से विकसित ‘शिक्षा कोपायलट’ के बारे में नडेला ने कहा कि यह शिक्षकों को सशक्त बनाता है। माइक्रोसॉफ्ट के सीईओ ने कहा, ‘मैं जिन चीजों के बारे में हमेशा सोचता हूं उनमें से एक है वास्तव में शिक्षकों को सशक्त बनाना क्योंकि अगर हम शिक्षकों के हाथों में उपकरण दे सकते हैं, तो उनमें स्पष्ट रूप से किसी भी एआई की तुलना में अधिक छात्रों को प्रेरित करने की क्षमता है।’ यह शिक्षकों को 60 से 90 मिनट के बजाय 60 से 90 सेकंड में आकर्षक सामग्री के साथ एक संपूर्ण पाठ तैयार करने में मदद करता है। माइक्रोसॉफ्ट के अनुसार, यह वर्तमान में बेंगलुरु के करीब 30 ग्रामीण और शहरी स्कूलों में स्थापित किया गया है।

भारत में डेवलपर्स और विकास की गति अविश्वसनीय : नडेला ने कहा कि भारत में एक ओपन हेल्थकेयर नेटवर्क का जन्म गिटहब कोपायलट एआई टूल पर हुआ, जो एक ओपन सोर्स ईएमआर सिस्टम और टेली ईएमआर सिस्टम पर आधारित है। माइक्रोसॉफ्ट प्रमुख ने कहा कि कोपायलट के ईद गिर्द कई नवाचार हो रहे हैं और ‘भारत एक ऐसी जगह है जहां डेवलपर्स और विकास की गति अविश्वसनीय है।’ उन्होंने कहा कि उम्मीद है कि भारत 2027 तक गिटहब पर सबसे बड़े डेवलपर समुदाय के रूप में अमेरिका से आगे निकल जाएगा। गिटहब एक वेब-आधारित सेवा है जो सॉफ्टवेयर परियोजनाओं के कोड आदि रखने की सुविधा देती है।

Visited 39 times, 1 visit(s) today
0
0

मुख्य समाचार

लैंड लीज फीस माफ करने को लेकर फंसा है मामला एनजीटी ने कहा, जल्द से जल्द चालू करें काम, दें
कोलकाता : राज्य के सैकड़ों प्राथमिक स्कूल काफी बुरी हालत में हैं। ऐसे में अब प्रत्येक ब्लॉक व पालिका से
कोलकाता : राज्य सरकार के परिवहन विभाग की ओर से ‘वन स्टेट वन कार्ड’ चालू किया जा रहा है। यह
नई दिल्ली : दुनियाभर में तमाम लोगों के विंडोज सिस्टम पर ब्लू स्क्रीन की दिक्कत आ रही है। Microsoft के
कोलकाता : देवों के देव शिव शंभू, शिव शंकर साल का सबसे प्रिय माह श्रावण मास माना जाता है। इस
तीसरे सेमेस्टर की परीक्षा सितंबर और चौथे सेमेस्टर की परीक्षा मार्च में कोलकाता : 12 साल बाद उच्च माध्यमिक के
हावड़ा : तीन युवकों पर शनिवार को 12 साल की बच्ची से सामूहिक दुष्कर्म कर उसे दफनाने का आरोप लगा
कल मुहर्रम पर महानगर में सुरक्षा चाक-चौबंद, ट्रैफिक होगी प्रभावित करीब 4 हजार पुलिस कर्मी रहेंगे तैनात कल शहर में
कोलकाता : 6 दोस्त मंदारमणि की यात्रा पर गए थे। सभी लोग समुद्र में स्नान करने गये। तभी 2 लोगों
रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया हुई शुरू कोलकाता : माध्यमिक शिक्षा बोर्ड कक्षा 9 की रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया शुरू करने जा रहा है। इसे
एक नजर प्याज : 50 रु. प्रति किलो टमाटर : 100 रु. प्रति किलो कोलकाता : पश्चिम बंगाल टास्क फोर्स
संजय मुखर्जी को बनाया गया डीजी दमकल कोलकाता : लोकसभा चुनाव और विधानसभा के उपचुनाव खत्म होते ही एक बार
ऊपर