एटीएम से निकासी समेत 1 जुलाई से बदल जाएंगे एसबीआई के कई नियम

नई दिल्लीः देश का सबसे बड़ा बैंक भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई), 1 जुलाई, 2021 से एटीएम कैश निकासी, ब्रांच से कैश निकासी और चेक बुक के लिए अपने शुल्क में संशोधन करने जा रहा है। यानी 1 जुलाई से एसबीआई कई बदलाव करने जा रहा है। अब एटीएम और ब्रांच से फ्री चार कैश निकासी ट्रांजेक्शन पर चार्ज वसूल किया जाएगा। चाहे वह बेसिस सेविंग बैंक डिपॉजिट हो या एसबीआई बीएसबीडी अकाउंट्स हो। इसके अलावा, एसबीआई खाता ग्राहकों को केवल पहली 10 चेक पर्चियों पर चार्ज नहीं देने होगा। उसके बाद चार्ज लगेगा। आपको नीचे दिए गए कुछ सर्विस चार्ज के बारे में जानना होगा जो जुलाई से बदलने जा रहे हैं।

बैंक ब्रांच में एसबीआई नकद निकासी शुल्क 

शाखा नेटवर्क पर मुफ्त नकद निकासी अब 4 तक सीमित है। इससे अधिक निकासी करने पर एसबीआई खाताधारकों पर 1 जुलाई, 2021 से चार्ज देना होगा। पहले 4 फ्री कैश निकासी के बाद एसबीआई ग्राहको को 1 जुलाई से ब्रांच या एटीएम से प्रत्येक कैश निकासी पर 15 रुपए + जीएसटी (वस्तु और सेवा कर) चार्ज देना होहा।

एटीएम पर एसबीआई निकासी सीमा

एसबीआई एटीएम कैश निकासी नियम भी 1 जुलाई, 2021 से लागू हो रहा है। एसबीआई के अनुसार, पहले 4 फ्री लेनदेन के बाद प्रत्येक लेनदेन पर एसबीआई और अन्य एटीएम दोनों के लिए 15 रुपए + जीएसटी शुल्क लिया जाएगा।

एसबीआई चेक बुक चार्ज

1 जुलाई से लागू होने वाले नए एसबीआई चेक बुक चार्ज के अनुसार, एक बीएसबीडी खाताधारक को एक वित्तीय वर्ष में बिना किसी शुल्क के केवल 10 चेक स्लिप का यूज करने की अनुमति है। उसके बाद, 10-पत्ती की चेक बुक के लिए 40 रुपए प्लस जीएसटी और 25 पत्तों वाली चेक बुक की कीमत 75 रुपए प्लस जीएसटी चार्ज लिया जाएगा। 10 पन्ने या उसके भाग के लिए, एक इमरजेंसी चेक बुक की कीमत 50 रुपए + जीएसटी। हलांकि सीनियर सिटिजन को चेकबुक यूज प्रतिबंध से मुक्त किया गया है।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

एसएससी के पूर्व सलाहकारों की जमानत अर्जी खारिज

कोलकाता : एसएससी के दो पूर्व सलाहकार शांतिप्रसाद सिन्हा (एसपी सिन्हा) और अशोक साहा 7 दिनों के लिए सीबीआई की हिरासत में रहेंगे। सीबीआई के आगे पढ़ें »

ऊपर