कोरोना के कारण काम ना हो प्रभावित, लार्क ने निःशुल्क उपलब्ध कराई ये सुविधाएं

नई दिल्ली : सिंगापुर स्थित तकनीकी कंपनी लार्क टेक्नाॅलाॅजीज पीटीई लिमिटेड अपना डिजिटल कोलाबोरेशन भारत में निशुल्क उपलब्ध करा दिया है। लार्क कोलाबोरेशन के लिए एकऑल -इन-वन प्लेटफाॅर्म है, जो अनेक आवश्यक टूल्स, जैसे मैसेंजर, ऑनलाईन डाॅक्स एवं शीट्स, क्लाउड स्टोरेज, कैलेंडर एवं वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग की सुविधा देता है।

पूरी दुनिया के व्यवसाय कोविड-19 महामारी के खिलाफ अनेक प्रयास कर रहे हैं, जिसमें यात्रा पर प्रतिबंध, घर से काम करने की अनिवार्यता एवं रिमोट लर्निंग की नीतियां शामिल हैं। लार्क एक मजबूत व इस्तेमाल में आसान कोलेबोरेटिव टूल के रूप में लोगों को कनेक्टेड रहने में मदद करता है। यह सेवा भारत में शैक्षिक संस्थानों, जैसे स्कूल, काॅलेज एवं कोचिंग क्लासेस में प्रारंभ की गई है, जिससे टीचर्स एवं विद्यार्थियों के बीच रिमोट लर्निंग संभव हुई है। इससे वर्कफ्लो का प्रभावशाली तरीके व तीव्रता से प्रबंधन करने में मदद मिलेगी। रिमोट कार्य में सहयोग करने के अलावा, यूनेस्को ने लार्क को एक ऐसे प्लेटफाॅर्म के रूप में सम्मानित किया है, जिससे विद्यार्थियों, अभिभावकों एवं टीचर्स को लर्निंग संभव बनाने एवं स्कूल बंद होने के दौरान सामाजिक इंटरैक्शन करने में मदद मिलती है।

लार्क हेड विनय भाटिया ने कहा कि रिमोट वर्किंग के कार्यशील होने के साथ हमारा मानना है कि अब एक प्रभावशाली संचार एवं सहयोग की जरूरत है। व्यवसाय एवं शैक्षिक संस्थान काम की निरंतरता व दूर से लर्निंग सुनिश्चित करने के लिए कड़ी मेहनत कर रहे हैं। हम डिजिटल कोलेबोरेशन टूल्स के माध्यम से एक्सेसिबिलिटी प्रदान करने के लिए समर्पित हैं और हम लार्क निशुल्क प्रदान कर रहे हैं। इससे संगठनों को बिना किसी अतिरिक्त शुल्क के प्रभावशाली कार्य करने में मदद मिलेगी। लार्क में हम संगठनों व लोगों को एफिशियंसी लाकर ज्यादा प्रभावशाली काम करने में मदद करते हैं। हमारे इन-बिल्ट फीचर्स रिमोट एवं मल्टीनेशनल टीम्स को सुगमता से एक साथ काम करने में समर्थ बनाते हैं। हम प्रभावशाली संचार की संस्कृति का निर्माण कर रहे हैं। लार्क का निशुल्क वर्ज़न अनलिमिटेड वीडियो काॅल्स (एडवांस्ड स्क्रीन शेयरिंग), 200 जीबी क्लाउड स्टोरेज, आॅनलाईन कोलाबोरेटिव डाॅक्स एवं शीट्स, स्मार्ट कैलेंडर, मैसेंजर, अनलिमिटेड थर्ड पार्टी ऐप इंटीग्रेशंस एवं कस्टमाईज़ेबल अटैंडेंस/एप्रूवल वर्कफ्लो के साथ आता है। ये फीचर्स सिंक्रोनाईज़्ड हैं, जिससे किसी को भी काम पूरा करने के लिए विभिन्न एप्लीकेशंस को बार बार बदलना न पड़े। इसमें टीम के सदस्यों का शेड्यूल चैट के अंदर देखना, कैलेंडर ईवेंट से वीडियो काॅल लाॅन्च करना एवं वीडियो काॅल्स के दौरान डाॅक्युमेंट को एडिट करना शामिल है।

इसके साथ ही लार्क ने एक लाईव-स्ट्रीमिंग फीचर भी प्रस्तुत किया है, ताकि वर्चुअल कोलाबोरेशन की अन्य संभावनाओं का भी इस्तेमाल किया जा सके। वीडियो मीटिंग्स को लाखों लोगों तक पहुंचने के लिए लाईव-स्ट्रीम किया जा सकता है, जो बड़े स्तर की मीटिंग्स के लिए बहुत उपयोगी फीचर है, जब सीनियर एक्ज़िक्यूटिव्स दूर से बैठकर दुनिया में अपने हजारों कर्मचारियों को लाईव स्पीच दे रहे हों या फिर टीचर्स अपने विद्यार्थियों को लैक्चर दे रहे हों।

ये हैं खास बातें :
मैसेंजर
लार्क मैसेंजर के साथ आप 5000 सदस्यों तक चैट ग्रुप्स निर्मित कर सकते हैं, ऑल -स्टाफ घोषणाएं कर सकते हैं तथा शोरगुल को कम से कम रख सकते हैं। इसमें एमोजी रिप्लाई, थ्रेडेड वार्ताएं, रीड रसीद सुनिश्चित करते हैं कि टीम के सदस्यों को उनके काम का तत्काल फीडबैक मिल सके और वो जहां कहीं भी हों, वहीं से सिंक्रोनाईज़ेशन में रह सकें। यूज़र्स वीडियो/आॅडियो काॅल्स भी कर सकते हैं, ग्रुप के सदस्यों के शेड्यूल देख सकते हैं, डाॅक्युमेंट भेज सकते हैं और इसके लिए उन्हें मैसेंजर से बाहर भी नहीं जाना पड़ेगा। पूरी चैट हिस्ट्री को सर्च किया जा सकता है और इन्फाॅर्मेशन को लोकेट करना बहुत आसान है।

वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग
लार्क पर आप स्मूथ एवं 100 प्रतिभागियों तक की भरोसेमंद वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग अनलिमिटेड मिनट्स के साथ पाते हैं। आप उनकी स्क्रीन शेयर कर सकते हैं या फिर लार्क डाॅक (डेस्कटाॅप से या मोबाईल से) शेयर कर सकते हैं। आप वीडियो काॅल के दौरान मिलकर लार्क डाॅक को को-एडिट भी कर सकते हैं। वीडियो काॅल को एक क्लिक द्वारा किसी भी चैट या कैलेंडर ईवेंट से लाॅन्च किया जा सकता है। यूज़र्स किसी भी डिवाईस से इसमें शामिल हो सकते हैं। लार्क वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग में बाहरी प्रतिभागियों को भी आमंत्रित किया जा सकता है।

कैलेंडर
लार्क के कैलेंडर फंक्शन द्वारा यूज़र्स विभिन्न कैलेंडर डिस्प्ले कर सकते हैं और साथ-साथ अपने टीम के साथियों का शेड्यूल भी देख सकते हैं। व्यक्तिगत काॅन्टैक्ट्स को मीटिंग के लिए आमंत्रित करने के अलावा, यूज़र्स ग्रुप के सदस्यों को अपनी गेस्ट सूची में शामिल कर संपूर्ण चैट समूहों को आमंत्रित कर सकते हैं। किसी भी कैलेंडर ईवेंट से यूज़र्स एक क्लिक के साथ एक चैट ग्रुप (लार्क मैसेंजर में) एवं एक एजेंडा डाॅक (लार्क डाॅक्स में) लाॅन्च कर सकते हैं, जिससे बातचीत मीटिंग से पूर्व भी शुरू की जा सके और हर कोई एक ही पेज पर आ सके।

डाॅक्स
लार्क डाॅक्स पर यूज़र्स वीडियो काॅल्स के दौरान भी अपनी टीम के साथियों के साथ आॅनलाईन डाॅक्युमेंट को-एडिट कर सकते हैं तथा ये परिवर्तन लार्क ड्राईव (लार्क के निशुल्क वर्ज़न में 200 जीबी क्लाउड स्टोरेज शामिल है) में क्लाउड में सेव किए जा सकते हैं। लार्क डाॅक्स में मल्टीमीडिया कंटेंट डाला जा सकता है, जिसमें इमेज, वीडियो, चार्ट एवं ग्रुप चैट्स तथा पोल्स भी शामिल हैं। ‘कमेंट फीचर’ द्वारा यूज़र्स लार्क डाॅक के विशेष हिस्सों या लार्क शीट की विशेष सेल्स के बारे में बात कर सकते हैं। लार्क डाॅक्स में आप अपनी डाॅक्युमेंट शेयरिंग परमिशन देख सकते हैं, जिससे इन्फाॅर्मेशन को सुरक्षित रखना बहुत आसान हो गया है।

वर्कप्लेस
लार्क वर्कप्लेस में यूज़र्स अपने संस्थान के आंतरिक वर्कफ्लो जैसे अनुमोदन, रिइंबर्समेंट, लीव एवं अटैंडेंस आदि को आॅटोमेट और कस्टमाईज़ कर सकते हैं। इसके लिए उन्हें किसी कोड या फिर अतिरिक्त साॅफ्टवेयर को खरीदने की जरूरत नहीं होगी। वो लार्क को जीरा से लेकर असाना या सेल्सफोर्स जैसी थर्ड-पार्टी एप्लीकेशंस के साथ इंटीग्रेट कर सकते हैं। लार्क में एक ओपन प्लेटफाॅर्म है, जहां यूज़र्स अपने खुद के ऐप्स एवं बाॅट्स भी बना सकते हैं।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

टॉस विवाद पर बोले संगकारा- मैं जीता था लेकिन धोनी आवाज नहीं सुन पाए तो दोबारा सिक्का उछाला गया

नयी दिल्‍ली : भारत-श्रीलंका के बीच 2011 वर्ल्ड कप फाइनल में दोबारा टॉस कराने के मामले में अब जाकर श्रीलंका के पूर्व कप्तान कुमार संगकारा आगे पढ़ें »

ईसीबी ने 55 खिलाड़ियों को अभ्यास शुरू करने को कहा

लंदन : विश्व कप विजेता कप्तान इयोन मोर्गन और टेस्ट टीम के कप्तान जो रुट के अलावा इंग्लैंड एवं वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) ने 55 आगे पढ़ें »

ऊपर