कोरोना से राहत के लिए लक्ष्मी मित्तल ने पीएम-केयर्स फंड में 100 करोड़ रुपये देने की घोषणा की

नई दिल्ली : दुनिया के हर कोने में लोगों को कोविड-19 के कारण व्यापक दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।  भारत जैसे देश, जहां इतनी बड़ी आबादी है और जो विकास के ऐसे संवेदनशील मुहाने पर खड़े हैं, उन पर प्रभाव और भी गंभीर हो सकता है। ऐसे समय में समन्वय बहुत जरूरी है। सरकारों, कंपनियों और नागरिकों को अपने संसाधनों के प्रयोग के लिए मिलकर काम करना चाहिए, जिससे इस महामारी के खिलाफ लड़ाई में यथा संभव सुगमता से हर कदम उठाना सुनिश्चित हो सके।ये बातें लक्ष्मी एन मित्तल  ने मीडिया को दिए एक बयान में कही।

आर्सेलर मित्तल और निप्पोन स्टील के संयुक्त उद्यम एएम/एनएस तथा हिंदुस्तान पेट्रोलियम और मित्तल एनर्जी इन्वेस्टमेंट्स के संयुक्त उद्यम एचएमईएल ने आज वायरस के कारण प्रभावित हुए परिवारों एवं समुदायों की रक्षा की दिशा में भारत की स्थिति को मजबूत करने के लिए पैकेज का एलान किया है। भारत में हमारी दोनों कंपनियों ने देशभर में जारी राहत कार्यों के लिए कुल 100 करोड़ रुपये प्रधानमंत्री के सिटिजन असिस्टेंस एंड रिलीफ इन इमरजेंसी सिचुएशन (पीएम-केयर्स) फंड में देने की  हैं, साथ ही  कंपनी देश की जनता की मदद के लिए भी ऐसे समय में आगे आई है।

  • 5,000 से ज्यादा लोगों के लिए रोजाना भोजन का प्रबंध किया जा रहा है और साथ ही 30,000 से ज्यादा लोगों को खाने के पैकेट दिए जा रहे हैं।
  •  अपने कारखानों के नजदीक एंबुलेंस सेवा दे रहे हैं और केयर सेंटर तैयार कर रहे हैं।
  • जहां हम संचालन करते हैं, वहां लोगों को बचाव के तरीके बताए जा रहे हैं और सफाई के किट व पीपीई उपलब्ध कराए जा रहे हैं।
  •  इस अवधि में सभी कर्मचारियों को उनका वेतन मिलता रहेगा।
  • पूरी दुनिया में लोग, संस्थाएं और कंपनियां अपनी सेवाएं दे रही हैं। मित्तल ने कहा कि मुझे खुशी है कि हमारी कंपनियां भी इस सहायता में छोटी सी भूमिका अदा कर पा रही हैं। मानव जाति की प्रतिभा उल्लेखनीय है और मुझे भरोसा है कि अगर हम मिलकर काम करेंगे तो सफलता अवश्य मिलेगी। पूरे भारत में लोगों ने इस संकट के क्षण में अप्रत्याशित प्रतिबद्धता, बहादुरी और करुणा दिखाई है और वे पूरे राष्ट्र की तरफ से समर्थन व सम्मान के अधिकारी हैं।
शेयर करें

मुख्य समाचार

बॉयकॉट ने बीबीसी की स्पेशल टेस्ट कॉमेंट्री टीम छोड़ी

लंदन : इंग्लैंड के पूर्व कप्तान जैफरी बॉयकॉट ने कोरोना की वजह से बीबीसी की स्पेशल टेस्ट कॉमेंट्री टीम छोड़ दी है। वे 14 साल आगे पढ़ें »

एशिया कप में खेलना सपने सच होने जैसा : कप्तान आशा लता

नयी दिल्ली : भारतीय महिला फुटबॉल टीम के सदस्य घरेलू दर्शकों के सामने एएफसी महिला एशिया कप 2022 फाइनल्स की संभावनाओं से खुश हैं और आगे पढ़ें »

ऊपर