जियो ने अमेरिका में किया 5जी का सफल परीक्षण 

नयी दिल्लीः 5जी तकनीक के सफल परीक्षण के बाद मुकेश अंबानी की रिलायंस जियो चीनी कंपनी हुवावे को कड़ी टक्कर देने को पूरी तरह तैयार है। रिलायंस जियो की 5जी तकनीक का मंगलवार को अमेरिका में सफलतापूर्वक परीक्षण हुआ। चीन से कोरोना महामारी की वजह से बहुत से देशो ने चीनी कंपनी हुवावे पर प्रतिबंध लगाया दिया है। ऐसे में घरेलू संसाधनों से विकसित रिलायंस जियो की 5जी तकनीक के सफलतापूर्वक परीक्षण के बाद चीनी कंपनी हुवावे के लिए यह बड़ा झटका है।

हुवावे पर प्रतिबंध के चलते बड़ी संख्या में विदेशी कंपनियां और सरकारें 5जी टेक्नोलॉजी के लिए जियो को अपना सकती हैं। अमेरीकी प्रौद्योगिकी फर्म क्वालकॉम के साथ मिलकर रिलायंस जियो अमेरिका में अपनी 5जी तकनीक और उससे जुड़े उत्पादों का परीक्षण कर रही है।

अमेरिका के सैन डियागो में हुए एक वर्चुअल कार्यक्रम में रिलायंस जियो के अध्यक्ष मैथ्यू ओमान ने 5जी तकनीक के सफल परीक्षण की घोषणा की। रिलायंस जियो ने क्वालकॉम के साथ मिलकर कुछ ऐसे 5जी उत्पाद बनाए हैं जिन्हें 1000 एमबीपीएस से अधिक की स्पीड पर परखा गया है।

परीक्षण के लिए 5जी तकनीक रिलायंस जियो ने मुहैया कराई है। क्वालकॉम के उपाध्यक्ष दुर्गा मल्लदी ने कहा कि हम जियो के साथ मिलकर कई तरह के समाधान तैयार कर रहे हैं। इन देशों में मिल रही 5जी सेवाः दक्षिण कोरिया, चीन और अमेरिका में सबसे पहले 5जी की शुरुआत हुई थी।

भारत में भले ही अभी 5जी की टेस्टिंग शुरू होने की तैयारी हो रही हो, लेकिन ये दुनियाभर के 68 देशों या उनकी सीमा पर शुरू हो चुकी है। इसमें श्रीलंका, ओमान, फिलीपींस, न्यूजीलैंड जैसे कई छोटे देश भी शामिल हैं। 5जी यानी 5वीं पीढ़ी की स्पीड 5जी नेटवर्क पर इंटरनेट स्पीड 4जी की तुलना में कई गुना तेज हो जाती है। भारत में अभी तक 5जी तकनीक के परीक्षण के लिए स्पेक्ट्रम उपलब्ध नहीं हो पाया है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

टी-20 में ऑस्ट्रेलिया को कड़ी चुनौती देगा भारत, ऑस्ट्रेलिया में 12 साल से सीरीज नहीं हारी टीम इंडिया

कैनबरा : एक दिवसीय श्रृंखला में विकल्पों की कमी के कारण मिली हार के बाद भारतीय क्रिकेट टीम शुक्रवार से शुरू हो रही तीन मैचों आगे पढ़ें »

रेसलिंग वर्ल्ड कप में उतरेंगे भारत के 24 पहलवान

नयी दिल्ली : कोरोना के बीच सर्बिया के बेलग्रेड में 12 से 18 दिसंबर के बीच इंडिविजुअल रेसलिंग वर्ल्ड कप खेला जाएगा। इसमें दीपक पुनिया, आगे पढ़ें »

ऊपर