रियल एस्टेट में निवेश लॉन्ग टर्म में फायदेमंद

नई दिल्ली : कुछ साल पहले तक निवेशकों के लिए रियल एस्टेट क्षेत्र आकर्षण का केंद्र हुआ करता था, लेकिन हाल के कुछ सालों से इस क्षेत्र में लगातार मंदी बनी हुई है। बहुत से निवेशक जिन्होंने कुछ साल पहले इस क्षेत्र में निवेश किया था, आज भारी नुकसान उठा रहे हैं।

लगातार सुस्ती के बाद इस क्षेत्र को सरकार राहत देने की योजना बना रही है, ऐसे में सवाल यह है कि इस क्षेत्र में निवेश करना चाहिए, या नहीं। मार्केट के जानकारों का कहना है कि अगर आप खुद के लिए घर खरीद रहे हैं तो ये आपके लिए सही समय है, अभी मोल भाव करने का अच्छा समय है। फ़िलहाल फ्लैट लेना काफी सस्ता और फायदे का सौदा होगा। अगर आप यह चाहते हैं कि घर आपके मनपसंद लोकेशन पर मिले तो इसकी संभावना भी काफी बढ़ जाती है।

रियल एस्टेट एक्सपर्ट्स का कहना है कि अगर लंबे समय यानी पांच साल से ज्यादा के लिए इस क्षेत्र में निवेश करना चाहते हैं तो यह फायदेमंद है। शॉर्ट टर्म में फिलहाल कोई फायदा नहीं है। सरकार ने टैक्स में डेवलपर और खरीदार दोनों को राहत दी है। इसमें खरीदार को 2.50 लाख रुपये का लाभ भी मिलता है। इसके अलावा सरकार ने प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत ब्याज में भी राहत दी है। अफोर्डेबल हाउसिंग के तहत घर नहीं खरीदने पर सामान्य कर देना होगा।

शेयर करें

मुख्य समाचार

पीटरसन ने बिना दर्शकों के ही आईपीएल का सुझाव दिया

 नयी दिल्ली : कोरोना के कारण भले ही सभी खेल गतिविधियां अनिश्चितकाल के लिये थम गयी हों लेकिन इंग्लैंड के पूर्व कप्तान केविन पीटरसन का आगे पढ़ें »

बीसीसीआई ने उम्मी‍द जताई – इसी साल होगा आईपीएल 

नई दिल्ली : कोरोना वायरस के कारण इंडियन प्रीमियर लीग के 13वें संस्करण का भविष्य अधर में लटका हुआ है। लेकिन भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड आगे पढ़ें »

देश में कोरोना वायरस संक्रमण के 525 नए मामले आए सामने, कुल मौत 75 हुई, कुल मामले 3,072 हुए

कोरोना के कारण अगले ओलंपिक तक लय व एकाग्रता बनाये रखना चुनौतीपूर्ण : अभिषेक वर्मा

कोरोना : ‘पीएम केयर्स’ के लिए धन इकट्ठा करने की खातिर आनलाइन शतरंज खेलेंगे आनंद

कोरोना के खिलाफ लड़ाई घर में रहकर जीतेंगे : पुजारा

कोरोना से जंग : ब्राजीली फुटबॉलर नेमार ने 7.5 करोड़ रुपए दान दिए

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सचिन की नाबाद 241 की पारी सबसे अनुशासन वाली : ब्रायन लारा

मैच फिक्सिंग माफी लायक जुर्म नहीं, फिक्सर को फांसी दे देनी चाहिए : जावेद मियांदाद

coronas

बंगाल में कोरोना वायरस का एक और मामला, मरीजों की कुल संख्या हुई 58

ऊपर