आयकर ने आदित्य बिड़ला समूह की कंपनी ग्रासिम इंडस्ट्रीज को भेजा 5,872.13 करोड़ रुपये का नोटिस

नई दिल्ली : आदित्य बिड़ला समूह की कंपनी ग्रासिम इंडस्ट्रीज को आयकर विभाग ने 5,872.13 करोड़ रुपये कर के लिए नोटिस भेजा है. यह कर मांग आदित्य बिड़ला नुवो और आदित्य बिड़ला फाइनेंशियल सर्विसेज के साथ ग्रासिम इंडस्ट्रीज के विलय के सिलसिले में मांगी गई है. ग्रासिम इंडस्ट्रीज ने शेयर बाजार को सूचना दी है, जिसमें कहा है कि कंपनी को 15 मार्च 2019 को आयकर विभाग के उपायुक्त (डीसीआईटी) की ओर से जारी आदेश मिला है. नोटिस में लाभांश वितरण कर और ब्याज समेत कुल 5,872.13 करोड़ रुपये की मांग की गई है. हालांकि कंपनी का कहना है कि उपरोक्त आदेश कानूनन तर्कसंगत नहीं है.

ग्रासिम इंडस्ट्रीज का इस नोटिस के संबंध में कहना है कि आदेश के खिलाफ कार्रवाई की जा रही है. डीसीआईटी ने 11 फरवरी 2019 को कारण बताओ नोटिस जारी किया था, जिसके बाद 1 मार्च 2019 को इसे फिर से भेजा गया है. इसमें आयकर अधिनियम 1961 की धारा 115-ओ को धारा 115-क्यू के साथ जोड़ते हुए पूछा गया है कि आदित्य बिड़ला कैपिटल लिमिटेड (एबीसीएल) द्वारा ग्रासिम इंडस्ट्रीज के शेयर धारकों को इक्विटी शेयरों के आवंटन पर क्यों न इन प्रावधानों को लागू किया जाए. आयकर ने यह सवाल तीन कंपनियों के बीच हुए विलय के बाद उठाया है. इस बारे में कंपनी का कहना है कि इन नोटिसों का विस्तृत जवाब दिया जा चुका है.

शेयर करें

मुख्य समाचार

सीएए और एनआरसी को लेकर मेयर ने बोला हमला

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : मेयर और मंत्री फिरहाद हकीम ने सीएए और एनआरसी को लेकर एक बार फिर केंद्र सरकार पर हमला बोला। रविवार को रक्तदान आगे पढ़ें »

ईस्ट वेस्ट मेट्रोः इस महीने शुरु होने की उम्मीदें बढ़ीं

नए जीएम ने मेट्रो परियोजना का किया निरीक्षण सन्मार्ग संवाददाता कोलकाताः साल्टलेक स्टेडियम से साल्टलेक सेक्टर-5 तक मेट्रो परियोजना के शुरू होने की उम्मीदें एक बार फिर आगे पढ़ें »

ऊपर