आयकर ने कब्रों से निकाले नकदी, सोना – हीरे

नई दिल्ली: इनकम टैक्स विभाग ने चेन्नै और कोयंबटूर स्थित सरवन स्टोर्स ब्रामनदमई, जी स्क्वॉयर और लोटस कंपनी के ठिकानों में छापेमारी करके 433 करोड़ की अघोषित धनराशि जब्त की। यह सर्च ऑपरेशन नौ दिन तक (29 जनवरी से 6 फरवरी) तक चला। छापेमारी के दौरान 25 करोड़ कैश, 12 किलो सोना और 626 कैरेट हीरा मिला था। एक हफ्ते से ज्यादा समय तक चली इस छापेमारी में कब्रें खोदकर नकदी और कीमती सामान निकाला गया।
इनकम टैक्स अधिकारियों ने कंपनी के ऑफिसों के अलावा मालिकों के घर पर भी छापेमारी की थी। दोनों शहरों की 72 जगहों सर्च ऑपरेशन चला। इनकम टैक्स (आईटी) विभाग को सरवन स्टोर ब्रामनदमई के मालिक योगाराधिनम पोंडुरई की दो रीयल्टी कंपनी (जी स्क्वॉयर और लोटस कंपनी) के बीच डीलिंग के बारे में पता चल गया था।

एक वरिष्ठ इनकम टैक्स अधिकारी के मुताबिक टीमों के वहां पहुंचने से पहले आरोपियों को छापेमारी की सूचना मिल गई थी। कुछ पुलिस अधिकारियों ने फर्म के मालिकों को संभावित आईटी रेड के बारे में सूचित कर दिया था। देखते हुए पोंडुरई और उनके सहयोगी ने बड़ी मात्रा में कैश, कागजात, सोना और हीरा वगैरह को एक एसयूवी में भरकर अपने ड्राइवर को इसे शहर के बाहर भेजने के लिए कहा।

इनकम टैक्स अधिकारी के मुताबिक उनके स्टाफ ने कंप्यूटर से सारे रेकॉर्ड और सीसीटीवी फुटेज भी डिलीट कर दिए थे। पूछताछ में पता चला कि एसयूवी में नकदी और कीमती सामान को भरकर भेजा गया है, जिसे हमने ढूंढ निकाला। उस गाड़ी में हमें कुछ खास मिला नहीं, लेकिन यह पता चला कि कीमती सामान से भरे कई बैग कब्रिस्तान में गाड़े गए हैं और कुछ इमारतों में छिपाए गए हैं।

पोंडुरई ने अपना गैर-हिसाबी पैसा इन कंपनियों में लगाया था। 284 करोड़ की गैर-हिसाबी आय पोंडुरई के नाम थी, जबकि बाकी 149 करोड़ रुपया बाकी दोनों फर्म के मालिकों के नाम था। इनकम टैक्स आयकर विंग के एक अधिकारी ने बताया कि हमें सरवन स्टोर्स के साथ-साथ दो कंपनियों के टैक्स चोरी के बारे में खबर मिला था। हमने सरवन स्टोर की बहुमंजिला इमारत को खंगाल डाला था। इस वजह से सर्च ऑपरेशन पूरा होने में कई दिन लगे। पोंडुरई और दोनों कंपनियों के मालिकों से पूछताछ की जाएगी।

शेयर करें

मुख्य समाचार

कॉलेज और यूनिवर्सिटी खोलने पर फैसला कल

कोलकाता: पिछले करीब साढ़े 6 महीनों से शिक्षण संस्थान बंद हैं, दोबारा काॅलेज - और यूनिवर्सिटी कब से खुल सकते हैं, इस पर चर्चा के आगे पढ़ें »

केंद्र ने ममता सरकार के सीधी अदायगी का प्रस्ताव ठुकराया

कोलकाता : केंद्र सरकार ने बंगाल के पीएम-किसान सम्मान निधि के तहत सीधे अदायगी न करने के बंगाल के अनुरोध को खारिज कर दिया है। आगे पढ़ें »

ऊपर